Look at political representations before counting - मतगणना से पहले राजनीतिक नुमाइंदों पर गड़ी निगाह DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मतगणना से पहले राजनीतिक नुमाइंदों पर गड़ी निगाह

मतगणना से पहले राजनीतिक नुमाइंदों पर गड़ी निगाह

डीएम उमेश मिश्र ने लोकसभा चुनाव की मतगणना को शांतिपूर्वक संपन्न कराने के लिए कलक्ट्रेट सभागार में राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों की बैठक ली। मतगणना के संबंध में आयोग से मिले निर्देशों से अवगत कराया। विजयी जुलूस और निरर्थक विवाद से बचाव की नसीहत दी। प्रत्याशियों को जल्द एजेंट बनाने की प्रकिया पूरी करने का सुझाव भी दिया।

अमरोहा कृषि उत्पादन मंडी समिति में 23 मई को लोकसभा चुनाव की मतगणना कराई जाएगी। इसके लिए चार पंडाल बनेंगे। प्रत्येक पंडाल में काउंटिंग के लिए 14-14 टेबल लगेंगी। 15 वीं टेबिल एआरओ टेबल होगी। मतगणना स्थल पर बैरीकेडिंग की गई है। सुरक्षा को लेकर मंडी समिति छावनी में तब्दील रहेगी। शनिवार को डीएम ने मतगणना के संबंध में राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों की बैठक ली। आयोग से प्राप्त हुए दिशा निर्देशों से अवगत कराया। टेबल की संख्या के अनुसार प्रत्याशी एजेंट बनवा सकेंगे। 14 टेबलों पर वोटों की गिनती चलेगी। एक टेबल एआरओ टेबल होगी जबकि चार टेबल पर पोस्टल बैलेट की गणना होगी। एक टेबल पर स्कैनिंग होगी। यहां भी प्रत्याशी अपने एजेंट रख सकेंगे। 20 मई से पहले एजेंट बनवाने की प्रक्रिया पूरी करनी होगी। प्रत्याशी आयोग की गाइड लाइन के अनुसार ही एजेंट बनवा सकेंगे। डीएम ने कहा कि विजयी जुलूस पर प्रतिबंध रहेगा। मतगणना स्थल के अंदर मोबाइल, इलेक्ट्रिानिक डिवाइस, कैलकूलेटर, माचिस ले जाने पर रोक रहेगी। सुरक्षा के कड़े इंतजाम रहेंगे। राउंड वार मतगणना का रिजल्ट घोषित किया जाएगा। मतगणना स्थल के आस-पास समर्थकों की भीड़ नहीं लगने दी जाएगी। एडीएम गुलाब चंद्र, एसडीएम इंद्रनंदन सिंह, डिप्टी कलेक्टर सुखवीर सिंह, एसडीएम धनौरा, एसडीएम हसनपुर, नौगावां सादत समेत कांग्रेस जिलाध्यक्ष सुखवीर सिंह, भाजपा से पूर्व जिलाध्यक्ष गिरीश त्यागी आदि रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Look at political representations before counting