DA Image
3 दिसंबर, 2020|3:42|IST

अगली स्टोरी

हसनपुर में बरसात के मौसम में वन अफसरों को बनी तेंदुए के पकड़ में आने की उम्मीद

default image

बरसात के मौसम में वन अफसरों को क्षेत्र में खौफ का पर्याय बने तेंदुए के पकड़ में आने की उम्मीद बनी है। बरसात में गीली जमीन पर बने तेंदुए के पंजों के निशान के आधार पर उसके पकड़ में आने की संभावना जताई जा रही है। फिलहाल तक सूखी जमीन के चलते तेंदुए की लोकेशन ट्रेस करने में वन अफसरों को मुश्किल का सामना करना पड़ रहा था।

गौरतलब है कि क्षेत्र के गांव देहरी खादर के जंगल में वन विभाग की टीम बीते कईं दिन से तेंदुए की तलाश में जुटी है। हमलावर तेंदुआ तहसील क्षेत्र में अब तक दो लोगों की जान ले चुका है। कईं लोग तेंदुए के हमले में घायल हो चुके हैं। आबादी के बीच तेंदुए की दहशत बनी है। ग्रामीण तेंदुए को पकड़ने की मांग लगातार उठा रहे हैं लेकिन तेंदुए की तलाश में जुटे वन अफसरों की सारी कोशिशें फिलहाल नाकाम नजर आ रहीं हैं।

इससे पूर्व झुंडी खादर के जंगल में एक पखवाड़े पूर्व तेंदुए को पकड़ने के लिए पिंजरा भी लगाया गया था। हालांकि तेंदुआ पिंजरे में घूम कर वापस लौट आया। खटका नहीं गिरने के चलते तेंदुआ पिंजरे में नहीं फंस सका था। वन अधिकारी अब बदले मौसम में जल्द ही तेंदुए के पकड़ में आने की उम्मीद जता रहे हैं। गीली मिट्टी पर बनने वाले पंजों के निशान के आधार पर तेंदुए तक पहुंचने की बात कही जा रही है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Forest officials expect to catch leopard in rainy season in Hasanpur