ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश अमरोहानशा कैंसर से ज्यादा खतरनाक, उलेमाओं ने की तौबा करने की हिदायत

नशा कैंसर से ज्यादा खतरनाक, उलेमाओं ने की तौबा करने की हिदायत

मदरसा दारूल उलूम उस्मानिया फैजान-ए-रजा के संयोजन में शुक्रवार रात बहारे तैयबा कांफ्रेंस का आयोजन किया गया। दूर-दराज शहरों से आए उलेमाओं ने समाज में...

नशा कैंसर से ज्यादा खतरनाक, उलेमाओं ने की तौबा करने की हिदायत
हिन्दुस्तान टीम,अमरोहाSun, 10 Dec 2023 12:45 AM
ऐप पर पढ़ें

मदरसा दारूल उलूम उस्मानिया फैजान-ए-रजा के संयोजन में शुक्रवार रात बहारे तैयबा कांफ्रेंस का आयोजन किया गया। दूर-दराज शहरों से आए उलेमाओं ने समाज में जड़े जमा चुकीं बुराईयों से बचने की ताकीद कर दीन के रास्ते पर जिंदगी गुजारने की अपील की। ख्वातीन को पर्दा कराने, बच्चों को मोबाइल से दूर रखने और नौजवानों को नशाखोरी से बचाने पर जोर दिया।
शहर के मोहल्ला कुरैशी छतरी बाग स्थित बैंक्वेट हॉल में आयोजित कांफ्रेंस की शुरुआत मुफ्ती अरमान रजा कादरी ने तिलावते कलामे पाक से की। नात शरीफ का नजराना मौलाना मोहम्मद नाजिम ने पेश किया। मुंबई से आए मुफ्ती मोहम्मद शाकिर रजा नूरी ने इस्लाहे मआशरा पर तकरीर की। कहा कि मुसलमान अपनी शरीयत के उसूल छोड़कर दूसरे गुमराह कुन रास्तों पर चल रहे हैं। इस वजह से ही मआशरे में कई बुरी रस्में पनप चुकी हैं और वो बहुत तेजी से फैल रही हैं। नशीले पदार्थों के नुकसान बताते हुए कहा कि नशा नस्लों के लिए कैंसर से भी ज्यादा खतरनाक है। अल्लामा सैय्यद अमीनुल कादरी ने अपने इदारों को और बेहतर बनाने पर जोर दिया। बच्चों को दीन के साथ दुनियावी तालीम दिलाना वक्त का बड़ा तकादा बताया। सदर मदरसा एवं कन्वीनर कांफ्रेंस कारी मोहम्मद कारी मोहम्मद यामीन के मुताबिक कांफ्रेंस में सैय्यद फरीद हसनैन मियां के दस्ते मुबारक से मदरसे से फारिग 25 तालिबेइल्म की दस्तारबंदी कराई गई। अन्य उलेमाओं ने कांफ्रेंस में मौजूद लोगों से सुन्नतों पर अमल करने की ताकीद की। कहा कि सच्चा मुसलमान वही है, जो नबी के रास्ते पर अमल करता है और वही हक पर है। सदारत मुफ्ती अय्यूब रिजवी ने की जबकि निजामत की जिम्मेदारी मौलाना जाकिर हुसैन ने निभाई। कांफ्रेंस की सरपरस्ती मुफ्ती शाहिद हुसैन अजमली ने की। मुल्क में अमन-चैन व कौम की तरक्की एवं खुशहाली की दुआ के साथ कांफ्रेंस का समापन हुआ।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें