अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डीएम ने तरारा के प्रधान व ग्राम विकास अधिकारी किए निलंबित

शौचालय निर्माण में गड़बड़ी, विकास कार्यों और मनरेगा में धांधली की शिकायत को गंभीरता से लेते हुए डीएम ने तरारा गांव के प्रधान होसेराम व ग्राम विकास अधिकारी देवेंद्र शर्मा को निलंबित कर दिया। प्रधान के वित्तीय व प्रशासनिक अधिकार सीज कर दिए। पूरे मामले की जांच कराई जाएगी। हसनपुर ब्लाक की ग्राम पंचायत तरारा के ग्रामीणों ने कई बार कलक्ट्रेट में धरना प्रदर्शन किए और शिकायती पत्र दिए। जिसमें कहा कि प्रधान ने शौचालय निर्माण में काफी गड़बड़ी की है। पात्र लोगों को शौचालय नहीं मिल पाए। आवास में भी धांधली की गई है। मनरेगा के तहत कराए गए कार्यों में गड़बड़ी की बू आ रही है। ग्रामीणों ने डीएम को ज्ञापन देकर मांग की थी कि प्रधान को हटाया जाए और पूरे मामले की निष्पक्ष जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। डीएम ने इस मामले को गंभीरता से लिया और ग्राम प्रधान व ग्राम विकास अधिकारी को निलंबित कर दिया। इससे दोनों में खलबली मची हुई है। प्रभारी डीपीआरओ विमल कुमार ने बताया कि प्रधान होसेराम के वित्तीय व प्रशासनिक अधिकार सीज कर दिए, जबकि व ग्राम विकास अधिकारी देवेंद्र शर्मा को निलंबित कर दिया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:DM suspended chief and rural development officer