ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश अमरोहागैंगस्टर में निरुद्ध अपराधी से साठगांठ में डिडौली कोतवाल, हल्का इंचार्ज सस्पेंड

गैंगस्टर में निरुद्ध अपराधी से साठगांठ में डिडौली कोतवाल, हल्का इंचार्ज सस्पेंड

छह माह के लिए जिला बदर किए जाने के साथ ही गैंगस्टर में निरुद्ध आरोपी की गिरफ्तारी के लिए दबिश नहीं देने, उसके आपराधिक इतिहास की आला अफसरों को सही...

गैंगस्टर में निरुद्ध अपराधी से साठगांठ में डिडौली कोतवाल, हल्का इंचार्ज सस्पेंड
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,अमरोहाSat, 22 May 2021 05:21 PM
ऐप पर पढ़ें

अमरोहा। संवाददाता

छह माह के लिए जिला बदर किए जाने के साथ ही गैंगस्टर में निरुद्ध आरोपी की गिरफ्तारी के लिए दबिश नहीं देने, उसके आपराधिक इतिहास की आला अफसरों को सही जानकारी न देकर डिडौली कोतवाली प्रभारी निरीक्षक व हल्का इंचार्ज ने गुमराह किया। कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में डिडौली कोतवाली प्रभारी निरीक्षक व हल्का इंचार्ज को एसपी ने सस्पेंड किया है।

डिडौली कोतवाली क्षेत्र के गांव असगरीपुर निवासी भूरा पुत्र मतलूब के खिलाफ जिले के कई थानों में अभियोग पंजीकृत हैं। जिसके चलते अपर जिला मजिस्ट्रेट ने 18 जनवरी को उसे छह माह के लिए जिला बदर किया था। यह आदेश डिडौली कोतवाली पर 13 फरवरी को पास किया गया था। लेकिन डिडौली कोतवाली प्रभारी निरीक्षक अजय कुमार सिंह व हल्का इंचार्ज पप्पू जादौन पर आरोप है कि उन्होंने अपर जिला मजिस्ट्रेट के आदेशों का अनुपालन नहीं किया। इधर 15 अप्रैल को उसके खिलाफ गैंगस्टर की कार्रवाई की गई। बावजूद इसके पुलिस द्वारा न तो कोई कार्रवाई की गई और न ही गिरफ्तारी के लिए दबिश दी गई। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक व हल्का इंचार्ज ने आला अफसरों को भी इस बावत अवगत नहीं कराया। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक और हल्का इंचार्ज पर शातिर अपराधी भूरा के साथ साठगांठ आरोप लगा है। उधर, कार्य में लापरवाही का दोष प्रथम दृष्टया सामने आने पर लापरवाह पुलिस अधिकारियों दोनों को एसपी सुनीति ने तत्काल प्रभाव से निलंबित किया है। साथ ही दोनों के खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई भी शुरू की है।

epaper