DA Image
28 फरवरी, 2021|6:43|IST

अगली स्टोरी

लैपटॉप होते हुए भी पुराने तौर तरीकों पर चल रहा कामकाज

default image

अमरोहा। निज संवाददाता

विभागीय कामकाज में तेजी लाने के लिए लेखपालों को लैपटॉप दिए जा चुके हैं। लेकिन कुछ लेखपाल आज भी पुराने ढर्रे पर ही कामकाज कर रहे हैं। लैपटॉप होते हुए उसका प्रयोग नहीं किया जा रहा है। शासन की मुहिम को पलीता लग रहा है। लैपटॉप में तकनीकी खराबी के मामले भी सामने आए हैं।

जिले की चार तहसीलों में 250 से अधिक लेखपाल कार्यरत हैं, जिन्हें लैपटॉप दिए जा चुके हैं। विभागीय कामकाज से लेकर डाटा फीडिंग तक का कार्य लैपटॉप पर हो रहा है। लेखपाल जमीनों की पैमाई के दौरान लैपटॉप साथ लेकर जाते हैं। लैपटॉप के मिलने से लेखपालों को राहत मिली है। वही कुछ लेखपाल ऐसे भी हैं जो लैपटॉप होते हुए भी उनका प्रयोग नहीं कर रहे हैं। पुराने तौर तरीकों पर ही विभागीय कामकाज कर रहे हैं। इसके पीछे लेखपालों का लैपटॉप चलाने में पारंगत न होना वजह बताया जा रहा है। वहीं कुछ उम्रदराज लेखपाल भी लैपटॉप नहीं चला पा रहे हैं। लैपटॉप चलाने की सही जानकारी नहीं होने के कारण कुछ लेखपालों के लैपटॉप खराब भी हो गए हैं। किसी का चार्जिंग जैक खराब है तो कहीं कुछ और दिक्कत बनी है। हालांकि ऐसे लेखपालों की संख्या बहुत कम है।

गुरुवार को अमरोहा तहसील में लेखपालों को लैपटॉप पर काम करते हुए देखा गया। लेखपालों से जब बात की गई तो उन्होंने बताया कि एक दो लेखपालों को छोड़कर सभी लैपटॉप पर विभागीय काम काज कर रहे हैं। कुछ लैपटॉप तकनीकी खराबी के कारण काम नहीं कर रहे हैं।

इंसेट :

कराया जाएगा औचक निरीक्षण

एडीएम विनय कुमार सिंह ने बताया कि लेखपालों को लैपटॉप पर विभागीय कामकाज करने का निर्देश दिया जा चुका है। कामकाज में लेखपाल लैपटॉप का इस्तेमाल कर रहे हैं। कुछ लेखपालों के लैपटॉप में तकनीकी खराबी की सूचना मिली है। उन्हें तत्काल सही कराने के लिए कहा गया है। लेखपाल कामकाज में लैपटॉप का इस्तेमाल कर रहे हैं या नही, इसकी जानकारी के लिए औचक निरीक्षण किया जाएगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Despite laptops the work is going on in the old ways