DA Image
20 सितम्बर, 2020|10:11|IST

अगली स्टोरी

एसडीएम के ज्ञापन न लेने पर भड़के कांग्रेसी, दिया धरना

एसडीएम के ज्ञापन न लेने पर भड़के कांग्रेसी, दिया धरना

यूरिया किल्लत समेत किसानों की समस्याओं को लेकर तहसील पर कांग्रेसियों ने धरना दिया। मौके पर पहुंचे एसडीएम ने ज्ञापन लेने से इनकार कर दिया। भड़के कांग्रेसियों ने एसडीएम के रवैये की निंदा की है।

बुधवार सुबह कांग्रेसी अस्थाई तहसील परिसर में एकत्र हुए और प्रदर्शन शुरू कर दिया। जिला अध्यक्ष ओमकार कटारिया ने कहा कि प्रदेश में यूरिया की भारी किल्लत हो रही है। धान व ईख फसल के लिए यूरिया खाद नहीं मिल रहा। खाद की कालाबाजारी हो रही है। किसानों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। मांग करते हुए कहा कि किसानों को भरपूर खाद उपलब्ध कराया जाए। कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। वक्ताओं ने कहा कि जिन किसानों की फसलें बाढ़ के पानी में नष्ट हुई हैं उन्हें तत्काल मुआवजा दिलाया जाए। लॉक डाउन की अवधि में व्यापारियों के बिजली के बिल माफ किए जाएं और विद्यार्थियों की फीस माफ की जाए। बकाया गन्ना भुगतान तत्काल दिया जाए। कांग्रेसी अपनी बात कह रहे थे कि इस दौरान तहसील परिसर में एसडीएम विजय शंकर पहुंच गए। कांग्रेसियों ने उनसे ज्ञापन लेने के लिए कहा तो वह बिफर गए। कोरोना महामारी का हवाला देकर धरना प्रदर्शन करने के आरोप में कार्रवाई करने की धमकी दी। ज्ञापन लेने से इंकार कर दिया। तहसीलदार व दूसरा कोई अधिकारी भी ज्ञापन लेने नहीं पहुंचा। पूर्व जिला अध्यक्ष तारिक मोहम्मद खान ने अधिकारियों के रवैए की निंदा की है। इस मौके पर डॉ. अहमद मुर्तुजा, ख्यालीराम राणा, राजपाल सिंह सैनी, विनोद कुमार सक्सेना, छुन्नन भारती, आरिफ अली व मनोज शर्मा आदि मौजूद थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Congress angry over not taking SDM memo