DA Image
31 मार्च, 2020|1:07|IST

अगली स्टोरी

अमरोहा में कालाबाजारी और ओवर रेट को रोकने में प्रशासन नाकाम

अमरोहा में कालाबाजारी और ओवर रेट को रोकने में प्रशासन नाकाम

लॉकडाउन के बीच जरूरी चीजों की कालाबाजारी और अधिक दाम वसूली को रोकने में जिला प्रशासन पूरी तरह नाकाम नजर आ रहा है। गुरुवार को आधे दिन की छूट मिलते ही बाजार खुले तो ओवर रेट की समस्या गहरा गई। आटे का दाम 26 से बढ़कर 40 रुपये प्रति किलो तक पहुंच गया।

कोरोना के बाद अब आम लोगों पर महंगाई की मार पड़ी है। दो दिन के लॉकडाउन में खाद्य पदार्थों के दाम दोगुना तक बढ़ गए हैं। प्रशासन रोक लगा पाने में नाकाम नजर आ रहा है। दुकानों पर खाद्य पदार्थों के दाम दोगुने तक बढ़ गए हैं। सरकार का सख्त निर्देश है कि खाद्य पदार्थों के दाम नहीं बढ़ाए जाएं। लेकिन शासन की इस मंशा का पालन कराने में जिला प्रशासन नाकाम नजर आ रहा है। ऐसी ही गजरौला की एक शिकायत गुरुवार को एसडीएम शशांक चौधरी को मिली। तहसीलदार सदानंद सरोज ने अग्रसेन मार्केट में दाल विक्रेता के यहां छापा मारा। शिकायतकर्ता को भी बुलाया। 80 रुपये किलो वाली अरहर की दाल 100 रुपये के भाव पर बेचने की बात सामने आई। तहसीलदार ने बताया कि व्यापारी पर लगा अधिक मूल्य वसूलने का आरोप शिकायत में सही मिला। हिदायत दी गई है कि दुकान पर सामान की रेटलिस्ट चस्पा करें। ओवर रेट वसूलने, जमाखोरी या फिर कालाबाजारी पर कार्रवाई करने की चेतावनी दी। उधर, प्रशासनिक इस लापरवाही को लेकर आम लोगों में रोष बना है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Administration failed to stop black marketing and over rate in Amroha