DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लाखों रुपए का घोटाला करने वाले ग्राम प्रधान के खिलाफ कार्रवाई नहीं

ग्राम पंचायत निधी में विकास के नाम पर लाखों रुपए का घोटाला करने के बाद भी ग्राम प्रधान के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई। ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री कार्यालय को पत्र भेजकर कार्रवाई की मांग की है। ग्रामीणों ने कार्रवाई ना होने पर मुख्यमंत्री के दरबार में आत्मदाह करने की भी चेतावनी दी है। हसनपुर विकासखंड के ग्राम तरारा निवासी लाखन सिंह, सुनील कुमार, भोजराम, अजय पाल, लक्ष्मण, छोटेलाल आदि ने जिलाधिकारी व अन्य अधिकारियों को शिकायत कर आरोप लगाया था कि ग्राम प्रधान ने सीसी रोड निर्माण, खड़ंजा निर्माण, सोलर लाइट, स्ट्रीट लाइट, पंचायत भवन मरम्मत, शौचालय निर्माण आदि कार्यों में लाखों रुपए का घोटाला कर धन हड़प लिया है। ग्रामीणों की मांग पर अधिकारियों ने जांच भी कराई। ग्रामीणों का दावा है कि पंचायत विभाग के मंडलीय उप निदेशक की जांच में शिकायतों की पुष्टि भी हुई। और उन्होंने जिलाधिकारी को पूरे प्रकरण में आवश्यक कार्रवाई करने की संस्तुति की। लेकिन प्रशासन ने उक्त जांच रिपोर्ट को पूरी तरह दबा दिया। और ग्राम पंचायत के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की। कार्रवाई न होने पर ग्रामीणों ने चेतावनी दी है कि अगर उनकी मांगों पर सुनवाई नहीं हुई। तो मुख्यमंत्री के दरबार में पहुंचकर सामूहिक रूप से आत्मदाह करेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Action Against Gram Pradhan not even after scamping millions of rupees