DA Image
6 मार्च, 2021|10:54|IST

अगली स्टोरी

जिले में बढ़ती जा रही बर्ड फ्लू की दशहत

default image

अमरोहा। निज संवाददाता

जिले में मुर्गी और पक्षियों के मरने का सिलसिला जारी है। इससे बर्ड फ्लू का खतरा और बढ़ गया है। पोल्ट्री उत्पाद को झटका लगा है। जिले से 80 से अधिक सैंपल जांच को भेजे जा चुके हैं, लेकिन अभी तक एक भी सैंपल की रिपोर्ट विभाग को प्राप्त नहीं हुई है। उधर, पशुपालन विभाग बर्ड फ्लू से निपटने के लिए अलर्ट हो गया है। जिले में विशेष सतर्कता बरती जा रही है। सभी टीमें अलर्ट मोड पर आ गई हैं।

देश में बर्ड फ्लू की दहशत के बीच जिले में भी विशेष सतर्कता बरती जा रही है। क्योंकि जिले में 22 बड़े पोल्ट्री फार्म संचालित हैं। जिनमें दो लाख से अधिक प्रतिदिन अंडों का उत्पादन होता है। जिले से कई जनपदों के लिए अंडों की सप्लाई होती है। जिले में सर्वाधिक अंडों की खपत है। बर्ड फ्लू के बढ़ते खतरे के चलते पोल्ट्री कारोबार को झटका लगा है। अंडा और चिकन के सेवन से लोग परहेज कर रहे हैं। इससे कारोबार प्रभावित हुआ है। रेट में भारी कमी आई है। दूसरी और जिले में बर्ड फ्लू का खतरा बढ़ता जा रहा है। मुर्गी और पक्षियों के मरने का सिलसिला जारी है।

पशुपालन विभाग की सभी टीमों द्वारा पोल्ट्री फार्मों का सघनता से निरीक्षण कर सैंपल जांच को भेजे जा रहे हैं। अब तक 80 से अधिक सैंपल जांच को भेजे जा चुके हैं। लेकिन अभी तक एक भी सैंपल की रिपोर्ट विभाग को प्राप्त नहीं हुई है।

सीवीओ डा. बृजवीर सिंह ने बताया कि जिले में बर्ड फ्लू का फिलहाल कोई खतरा नहीं है। एहतियात के तौर पर विशेष सतर्कता बरती जा रही है। 80 से अधिक सैंपल जांच को भेजे जा चुके हैं। पोल्ट्री फार्मों के साथ विदेशी परिंदों पर भी नजर रखी जा रही है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Accident of bird flu increasing in the district