DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  अमरोहा  ›  गजरौला में तीसरी लहर से निपटने के लिए तैयार किए 110 बेड, बच्चों का होगा उपचार
अमरोहा

गजरौला में तीसरी लहर से निपटने के लिए तैयार किए 110 बेड, बच्चों का होगा उपचार

हिन्दुस्तान टीम,अमरोहाPublished By: Newswrap
Tue, 25 May 2021 04:20 PM
संक्रमण की तीसरी लहर से बचने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। जनपद में तीन स्थानों पर 110 बेड के वार्ड बनाए गए हैं। जिनमें सिर्फ...
1 / 2संक्रमण की तीसरी लहर से बचने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। जनपद में तीन स्थानों पर 110 बेड के वार्ड बनाए गए हैं। जिनमें सिर्फ...
संक्रमण की तीसरी लहर से बचने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। जनपद में तीन स्थानों पर 110 बेड के वार्ड बनाए गए हैं। जिनमें सिर्फ...
2 / 2संक्रमण की तीसरी लहर से बचने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। जनपद में तीन स्थानों पर 110 बेड के वार्ड बनाए गए हैं। जिनमें सिर्फ...

गजरौला। संवाददाता

संक्रमण की तीसरी लहर से बचने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। जनपद में तीन स्थानों पर 110 बेड के वार्ड बनाए गए हैं। जिनमें सिर्फ बच्चों को ही भर्ती किया जाएगा। मंगलवार को विधायक राजीव तरारा ने गजरौला सीएचसी में बने दस बेड के पीडियाट्रिक्स वार्ड व ऑक्सीजन प्लांट का फीता काटकर उद्घाटन किया। ऑक्सीजन प्लांट जुबिलेंट की तरफ से बनवाया गया है।

तीसरी लहर में सबसे ज्यादा बच्चों को खतरा बताया जा रहा है। जिसके चलते स्वास्थ्य विभाग ने बच्चों को संक्रमण से बचाने के लिए तैयारियां शुरू कर दी हैं। इसी क्रम में गजरौला सीएचसी में बने पीडियाट्रिक्स वार्ड पूरी तरह तैयार हो गया है। जुबिलेंट द्वारा सीएचसी में लगवाए गए ऑक्सीजन प्लांट के बाद ऑक्सीजन की किल्लत भी दूर हो गई है। वार्डों तक आक्सीजन की सप्लाई पहुंचा दी गई है। विधायक राजीव तरारा ने मंगलवार की दोपहर पहुंचकर वार्ड व आक्सीजन प्लांट का फीता काटकर उद्घाटन किया। विधायक ने कहा कि तीसरी लहर को लेकर तैयारियां की जा रही है। जनपद में गजरौला समेत 110 बेडों के वार्ड बनवाए गए हैं। जिनमें सिर्फ बच्चे ही भर्ती होंगे।

स्वास्थ्य कर्मियों ने विधायक को सौंपा ज्ञापन

गजरौला। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे विधायक राजीव तरारा को चिकित्साकर्मियों ने काली पट्टी बांधकर मांगों के निस्तारण को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में स्वास्थ्य कर्मियों ने कहा कि कोरोना काल में स्वास्थ्य विभाग के सभी अधिकारी व कर्मचारी एकजुटता से टीम भावना से जुटे हैं लेकिन ऐसे में कुछ चंद संवर्गों को 25 प्रतिशत वेतन में वृद्धि के आदेश पारित होने से अन्य सभी चकर्मचारी हतोत्साहित हैं। इससे कर्मचारियों में आपस में भेदवाव का असर उनके मनोबल को कमजोर कर सकता है। आदेश में संशोधन करके सभी स्वास्थ्य कर्मियों के वेतन में वृद्धि का आदेश जारी किए जाए। ज्ञापन सौंपने वालों में सुमेधा शर्मा, पायल, सविता गोस्वामी, प्रदीप कुमार, नवीजान, पूजा गुप्ता आदि के नाम लिखे थे।

संबंधित खबरें