DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  अंबेडकर नगर  ›  बारिश होने से मेंथा किसानों को भारी नुकसान
अंबेडकर नगर

बारिश होने से मेंथा किसानों को भारी नुकसान

हिन्दुस्तान टीम,अंबेडकर नगरPublished By: Newswrap
Mon, 14 Jun 2021 03:02 AM
बारिश होने से मेंथा किसानों को भारी नुकसान

अम्बेडकरनगर। रविवार को मानसून की दस्तक से मौसम खुशगवार हो गया। जिले में कहीं तेज तो कहीं पर हल्की फुहारों से जगह जगह जलभराव हो गया। मानसूनी बारिश आने से मेंथा किसानों को भारी नुकसान होने के आसार हैं। अभी खेतों में भी बड़ी संख्या में मेंथा की फसल खड़ी है। आने वाले दिनों में भी बारिश के प्रबल आसार हैं।

रविवार को सुबह से ही पूरा आसमान बादलों से ढक गया। सुबह से आसमान में छाये बादलों ने जिले के कुछ हिस्सों में कहीं पर तेज तो कहीं हल्की बारिश की। इससे लोगों को को गर्मी से तो निजात मिल गई और मौसम सुहाना हो गया। हालांकि इस बारिश से किसानों के सामने समस्या खड़ी हो गई। पिपरमिंट की फसलों को काटकर पकाई के लिए परेशान किसानों के सामने बारिश ने और भी दिक्कत पैदा कर दी है। मेंथा की पकाई के लिए किसान बारिश में मारे मारे फिर रहे हैं। मौसम खराब रहने के कारण लोगों को दिक्कत भी हुई। अभी बड़ी मात्रा में मेंथा की फसल खेतों में ही खड़ी हुई है। मेंथा जायद की अच्छी और नकदी फसल मानी जाती है। वहीं बारिश के कारण शहर में जगह जगह पानी दिखा। सब्जी मंडी शहजादपुर में कीचड़ से लोगों को दुश्वारियों का सामना करना पड़ा। मौसम विभाग के जानकारों का कहना है कि इस तरह का मौसम आने भी कुछ दिनों तक रह सकता है। क्योंकि यह मानसूनी बारिश है इसलिए इसके आगे भी बढ़ने के आसार हैं। इस बार बारिश थोड़ा पहले शुरू हुई है।

इस बार एक सप्ताह पहले आ रहा है मानसून: प्री मानसून का रिमझिम बारिश का दौर रविवार को भी जारी रहा। लगातार तीसरे दिन भी रिमझिम फुहारों से तापमान में गिरावट हुई। गर्मी से राहत मिली। दिनभर रिमझिम हुई बारिश से लोगों की दिनचर्या भी प्रभावित हुई। मौसम विभाग के अनुसार इस बार समय से पहले मानसून दस्तक दे सकता है। सोमवार अथवा मंगलवार से जिले में मानसूनी बारिश हो सकती है। इस बार मानसून कम से कम एक सप्ताह पहले आ रहा है। इससे खेती किसानी के कार्य तेज हो गए हैं। हालांकि मेंथा और सूरजमुखी जैसी कुछ फसलों को मौके पर हो रही बारिश से भारी नुकसान होने की भी संभावना है।

संबंधित खबरें