DA Image
15 अगस्त, 2020|3:56|IST

अगली स्टोरी

बिजली आपूर्ति के लिए ऊर्जामंत्री ने जनप्रतिनिधियों से भी ली जानकारी

default image

अम्बेडकरनगर। हिन्दुस्तान संवाद

ऊर्जा मंत्री श्रीकान्त शर्मा ने सांसद एवं विधायकों से वीडियो कांफ्रेंसिंग कर जानकारी ली जब कि शुरू हो रही औद्योगिक इकाइयों को पर्याप्त बिजली आपूर्ति दिए जाने का सख्त निर्देश अधिकारियों को दिए। रोस्टर के अनुरूप निर्वाध आपूर्ति किए जाने के लिए अधिकारियों को पेट्रोलिंग बढ़ाने के भी निर्देशित किया गया। ऊर्जा मंत्री श्री शर्मा ने कहा कि औद्योगिक इकाइयां धीरे-धीरे गति पकड़ लेंगी और खपत भी जल्द ही बढ़नी शुरू हो जाएगी। ऐसे में लोड बैलेंसिंग और क्षमताबृद्धि का कार्य भी शीघ्र पूरा किया जाना आवश्यक है। ग्रामीण अंचल का विशेष ध्यान दिए जाने जिसमें किसानों को किसी प्रकार की दुश्वारी का सामना न करना पड़े, इसका विशेष ख्याल रखा जाए। जर्जर एवं लटके हुए तारों की विशेष पेट्रोलिंग किए जाने का निर्देश देते हुए ऊर्जा मंत्री ने कहा कि ऐसे उपकेन्द्र जिनका निर्माण कार्य पूर्ण हो चुका हो उसे अविलम्ब शुरू करा दिया जाए। क्रिटिकल क्षेत्रों में अतिरिक्त ट्रांसफार्मर/ट्राली ट्रांसफार्मर की व्यवस्था करने के साथ लाकडाउन के बाद भी उपभोक्ताओं की आपूर्ति व्यवस्था चुस्त-दुरुस्त बनाए रखने के लिए कर्मचारियों की प्रशंसा भी उन्होंने किया। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के साथ कर्मचारियों की सुरक्षा में किसी प्रकार समझौता न करना आवश्यक बताया। ऊर्जामंत्री ने वीडीओ कांफ्रेंसिंग के माध्यम से सांसद रितेश पांडेय, विधायक लालजी वर्मा, रामअचल राजभर, संजू देवी, अनीता कमल एवं विधायक सुभाष राय से भी वार्ता किया। वीडीओ कांफ्रेंसिंग में अधीक्षण अभियन्ता एके दोहरे, एक्सईएन अकबरपुर इंजीनियर विनय कुमार पटेल, इंजीनियर सत्यनारायण, इंजीनियर एके सिंह एवं इंजीनियर एसी सागर के अलावां सभी एसडीओ व अवर अभियन्ता भी मौजूद रहे। कोटेदारों से स्वच्छ बोरा लेने के निर्देश :अम्बेडकरनगर। किसानों की उपज का समुचित मूल्य दिलाने में किसी प्रकार की लापरवाही न बरतने का निर्देश प्रमुख सचिव खाद्य उत्तरप्रदेश शासन ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान अधिकारियों दी। उन्होंने खरीद की गति तेज करने के साथ भुगतान में विलम्ब न करने का निर्देश देते हुए कहा कि बोरे की कमी की दशा में कोटेदारों से स्वच्छ बोरा ले लिया जाए। भुगतान के लिए कमेटी बनाई जाए जिससे बोरे का भुगतान किए जा सके। 59 केन्द्रों ने अभी तक 1019 किसानों से 4900 मीट्रिक टन गेहूं क्रय करने के साथ 40 मीट्रिक टन भारतीय खाद्य निगम को डिलेवरी भी दे दिया है। अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व तथा जिला गेहूं खरीद अधिकारी डा. पंकज कुमार वर्मा, डीएफएमओ अजित प्रताप सिंह, प्रवीन कुमार, सुरेश कुमार, विजय प्रकाश तिवारी, विनय कुमार प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Energy minister also took information from public representatives for power supply