DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  अंबेडकर नगर  ›  निर्वाचित ग्राम पंचायत सदस्य को नहीं दिया प्रमाणपत्र

अंबेडकर नगरनिर्वाचित ग्राम पंचायत सदस्य को नहीं दिया प्रमाणपत्र

हिन्दुस्तान टीम,अंबेडकर नगरPublished By: Newswrap
Mon, 24 May 2021 11:21 PM
निर्वाचित ग्राम पंचायत सदस्य को नहीं दिया प्रमाणपत्र

भीटी। भीटी विकास खंड में मतदान की खामी के मामले में एक और मामला प्रकाश में आया है। चुनाव लड़ने के बाद भी वार्ड को रिक्त घोषित कर दिया गया है। विकास खंड के गोविन्दापुर ग्राम पंचायत के वार्ड संख्या 11 से निर्वाचित ग्राम पंचायत सदस्य शैलेंद्र कुमार जब जीत का प्रमाण पत्र लेने के लिए एडीओ पंचायत भीटी के कार्यालय पहुंचे तो वहां बताया गया कि इस वार्ड में चुनाव ही नहीं हुआ था, यह सुनकर शैलेंद्र कुमार अवाक रह गए।

शैलेन्द्र कुमार ने अपना नामांकन पत्र ट्रेजरी चालान द्वारा जमा 500 रुपए की रसीद और चुनाव के लिए मिला ओखली निशान का नमूना मतपत्र प्रस्तुत किया, लेकिन कोई सुनवाई उनकी नहीं हुई। इस संबंध में सहायक विकास अधिकारी पंचायत राम बरन ने कहा कि इस संबंध में उन्हें कोई जानकारी नहीं है। इस मामले में एआरओ से बात करेंगे, उसके बाद ही हम कुछ कह सकते हैं। भीटी विकासखंड के मतदान और मतगणना में लगातार धांधली व भ्रष्टाचार की शिकायत आम हो गई है। आधा दर्जन से अधिक रिट याचिकाएं भी उपजिलाधिकारी की अदालत में दाखिल हो चुकी हैं। यह अपने आप में एक अनोखा मामला प्रकाश में आया है जहां मतदान और मतगणना के बाद सीट खाली बता दी गई है। वार्ड नंबर 11 से निर्वाचित शैलेंद्र कुमार का कहना है इसी तरह की घटना वार्ड संख्या 6 में भी बताई जा रही है।

डीएम से संज्ञान में लेने की मांग: धांधली और भ्रष्टाचार की कहानी मतदान और मतगणना में पूरे क्षेत्र में चर्चा का विषय बनी हुई है लेकिन जिलाधिकारी की ओर से इस मामले में अभी तक कोई संज्ञान नहीं लिए जाने से आम लोगों में आक्रोश है। लोगों का कहना है कि जिलाधिकारी और राज्य सरकार को इस मामले में तत्काल संज्ञान में लेकर पूरे मामले की विस्तृत जांच कराकर दोषी अधिकारियों को दंडित कर जनता का विश्वास बहाल करना चाहिए। जांच होने तक संबंधित अधिकारियों को तत्काल इस जनपद से गैर जनपद किया जाना चाहिए नहीं तो इनके द्वारा जांच कार्य में बाधा पहुंचाई जाएगी, सबूत छुपाए जाएंगे, सबूत बनाए बिगाड़े जाएंगे। जबरन हराए गए प्रत्याशियों और क्षेत्रीय लोगों ने सीसीटीवी की रिकॉर्डिंग जनता के लिए ईमानदारी और पारदर्शिता परखने के लिए आम की जाने की मांग की है।

संबंधित खबरें