DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › अंबेडकर नगर › मां कात्यायनी से रोग, शोक, भय से मुक्ति मांगी
अंबेडकर नगर

मां कात्यायनी से रोग, शोक, भय से मुक्ति मांगी

हिन्दुस्तान टीम,अंबेडकर नगरPublished By: Newswrap
Mon, 11 Oct 2021 11:20 PM
मां कात्यायनी से रोग, शोक, भय से मुक्ति मांगी

अम्बेडकरनगर संवाददाता

शारदीय नवरात्र में साधना, उपासना और आराधना जारी है। नवरात्रि के पांचवें दिन सोमवार को आदिशक्ति माता भवानी के छठवें कात्यायनी देवी की आराधना हुई। षष्टम स्वरूप कात्यायनी देवी की घर-घर में आराधना कर मनौती मांगी गई।

साधकों ने ‘चन्द्रहासोज्ज्वलकरा शार्दूलवरवाहना। कात्यायनी शुभं दद्याद्देवी दानवघातिनी मंत्र का जाप करने के साथ घर घर में दुर्गा सप्तशती का पाठ किया गया। दुर्गा स्त्रोत, कीलक और कवच का पाठ किया गया। नौ दिनी अनुष्ठान कर रहे साधकों ने विधि विधान से पूजा-अर्चना, साधना और आराधना कर रोग शोक और संताप के साथ भय से मुक्ति की कामना की।

देवी मंदिरों में भक्तों ने की आराधना

शारदीय नवरात्र के पांचवें दिन सोमवार को देवी मंदिरों में भक्तों का रेला उमड़ा। नगर के दोस्तपुर रोड के काली मंदिर, शिवाला घाट के काली मंदिर, संघतिया नाके के अंबा मंदिर, नगर पालिका कार्यालय के बगल के दुर्गा मंदिर में भक्तों ने दर्शन और पूजन किया। भक्तों ने जय माता दी के जयकारे से नभ को गुंजायमान कर दिया। मंदिरों के आसपास मेले जैसा नजारा रहा।

नगर में आज से विधिवत शुरू होगी पूजा

ग्रामीण क्षेत्रों में दुर्गा पूजा महोत्सव पूरे शबाब पर पहुंच गया है। आमतौर पर तीन घंटे की रात बीतते ही सो जाने वाली गांव की गलियां मौके पर मध्यरात्रि के बाद ही गुलजार रहती है। वहीं शारदीय नवरात्र की वार्षिक पूजा का नगर में मंगलवार से विधिवत शुभारंभ हो जाएगा। मंगलवार की शाम तक सभी समितियों के पट खुल जाएंगे। हालांकि कुछ पूजा समितियों ने सोमवार को ही विधि विधान से पट खोल कर महोत्सव का शुभारंभ कर दिया है। अवशेष पूजा समितियां पट खोलने की तैयारी में है। नगर में पूजा महोत्सव का आयोजन 15 अक्तूबर तक होगा। महोत्सव का समापन विसर्जन शोभायात्रा से होगी।

संबंधित खबरें