DA Image
5 अगस्त, 2020|10:33|IST

अगली स्टोरी

पिता-पुत्र समेत पांच के विरुद्ध दर्ज होगा आपराधिक मुकदमा

default image

अम्बेडकरनगर। दहेज के लिए विवाहिता को मार करके दाहसंस्कार कर दिए जाने के मामले में न्यायिक मजिस्ट्रेट विराटमणि त्रिपाठी ने थानाध्यक्ष जलालपुर को मुकदमा दर्ज कर विवेचना करने का आदेश दिया है। मामला ढाई वर्ष पूर्व नगपुर गांव का है।जहांगीरगंज थाना क्षेत्र के फतेहपुर खास निवासनी बृजबाला विधवा हौसिला प्रसाद ने न्यायालय में दिए गए प्रार्थना पत्र में कहा कि उसकी पुत्री सन्ध्या मौर्य की शादी 19 अप्रैल 2018 को जलालपुर थाना क्षेत्र के नगपुर निवासी दीपचन्द्र के साथ हुई थी। आरोप है कि दहेज में 50 हजार रुपए नगद के लिए पति दीपचन्द्र, ससुर जियालाल, सास, जेठ दिनेश कुमार एवं जेठानी मीरा ने उसे पांच जून को जमकर मारा-पीटा था। काफी दिनों बाद दोनों पक्षों के बीच समझौता होने के बाद 23 अक्तूबर को इलाज कराने के लिए सन्ध्या को ससुराल लेकर गए। आरोप है कि पांच दिन बाद यानि 28 अक्तूबर 2018 को सन्ध्या मौर्य की हत्या कर साक्ष्य छिपाने के लिए दाहसंस्कार भी कर दिया। अधिवक्ता अरविन्द कुमार त्रिपाठी ने कहा कि मामले की शिकायत स्थानीय थाना एवं उच्च अधिकारियों से करने के बाद विपक्षीगणों के दबाव में कार्रवाई नहीं किया गया। अपराध की गम्भीरता के दृष्टिगत न्यायिक मजिस्ट्रेट ने विपक्षीगणों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर विवेचना करने का आदेश थानाध्यक्ष जलालपुर को दिया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:A criminal case will be filed against five including father and son