DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मेरी फाइलें लटकाने का दोषी कौन, अफसर बताएं: सांसद

मेरी फाइलें लटकाने का दोषी कौन, अफसर बताएं: सांसद

प्रशासन के रवैये के प्रति सांसद श्यामाचरण गुप्त की नाराजगी कम होने का नाम नहीं ले रही। बुधवार को हिन्दुस्तान से बातचीत में सांसद ने जिला प्रशासन से सीधा सवाल किया कि आखिरकार उनकी विकास निधि की फाइलें लटकाने वाले कौन लोग हैं। इनकी जांच कराकर कार्रवाई की जाए। सांसद ने दो टूक कहा कि अफसर बताएं की मैंने जिन कार्यों को प्रस्तावित किया और धन की स्वीकृति दी उसे डीएम के स्तर से कब मंजूरी मिली और कितने दिन बाद कार्यदायी संस्था को काम मिला। कितने काम पूरे हुए और कितनों का उद्घाटन मुझसे कराया गया।

सांसद ने कहा कि जब तक कार्य पूरे होने के बाद कम्प्लीशन रिपोर्ट नहीं मिल जाती तब तक सांसद निधि की अगली किश्त नहीं मिलती। काम लंबित होने के कारण निधि का पूरा उपयोग नहीं हो पा रहा। कहा कि जनता ने जिस काम के लिए उन्हें चुना है वह उस काम को नहीं कर पा रहे हैं। कार्यों की गुणवत्ता भी ठीक नहीं है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सूत्र वाक्य न खाऊंगा न खाने दूंगा को दोहराते हुए सांसद ने कार्यों को लटकाने के दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

सांसद ने कहा कि मुख्यमंत्री ने तय समय में फाइलों के निस्तारण के निर्देश दिए थे लेकिन जिले की मशीनरी उनके कामों को बाधित करके उनके राजनैतिक कार्यों को प्रभावित करने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि वह दोषियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं होती तो इसकी शिकायत करेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Who is guilty of stoping my files, tell the officer: MP