Shopkeeper shopkeepers are part of the lives of ordinary citizens - आम नागरिकों की जिंदगी का हिस्सा हैं फुटपाथी दुकानदार DA Image
13 दिसंबर, 2019|8:53|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आम नागरिकों की जिंदगी का हिस्सा हैं फुटपाथी दुकानदार

फुटपाथी दुकानदार आम नगारिकों की जिंदगी का हिस्सा बन गए हैं। आजाद हॉकर्स स्ट्रीट वेंडर्स यूनियन के महासचिव रवि द्विवेदी ने ये विचार व्यक्त किया। फुटपाथी दुकानदार समस्या नहीं, समाधान है। यूनियन की ओर से आयोजित पटरी दुकानदार व बंधुआ मजदूरों के बुनियादी अधिकारों व उजारीकरण पर शनिवार को संघ भवन डिप्लोमा इंजीनियर महासंघ पीडब्ल्यूडी में आयोजित कार्यशाला में रवि ने कहा कि फुटपाथी दुकानों में बिकने वाले सामान भी ब्रांड बन गए हैं। लोगों के पास मॉल या बडे़ रेस्तरां में जाने का समय नहीं होता तो फुटपाथी दुकानदार काम आते हैं। यूनियन महासचिव ने कहा कि शहरवासियों के जीवन का हिस्सा हैं फिर भी फुटपाथी दुकानदारों को उजाड़ा जा रहा है सुप्रीपकोर्ट के आदेश का उल्लंघन हो रहा है। केंद्र सरकार के आदेश का पालन नहीं हो रहा है। फुटपाथों पर कई तरह का अवैध कब्जा है लेकिन सरकारी एजेंसियों की नजर दुकानदारों पर ही रहती है। कार्यशाला में अधिवक्ता सुनील राज ने कहा कि फुटपाथी दुकानदारों की लड़ाई में अधिवक्ता पूरी मदद करेंगे।

कार्यशाला में 15 दिन बाद फुटपाथी दुकानदारों के समर्थन में कलक्ट्रेट में प्रदर्शन और शासन से बातचीत करने का निर्णय लिया गया। मुख्य अतिथि भोलानाथ तिवारी ने दीप प्रज्जवलित कर कार्यशाला का उद्घाटन किया। इसमें नाजिम अंसारी, मोहम्मद दानिश, ओपी सिंह, डॉ प्रमोद शुक्ला, राजनाथ झा, श्यामसूरत पांडेय, बिगुन तिवारी, कृतिका श्रीवास्तव, मोहम्मद आरिफ आदि ने विचार रखे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Shopkeeper shopkeepers are part of the lives of ordinary citizens