class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मरीजों के साथ धोखा कर रहीं दवा कंपनियां

मरीजों के साथ धोखा कर रहीं दवा कंपनियां

दवा खाने के बाद भी कोई फायदा नहीं हो रहा है, इस तरह की शिकायत लोग अक्सर करते हैं। दरअसल बाजार में ऐसी दवाएं बिक रही हैं जिनमें कोई तत्व ही नहीं हैं। बस पैकिंग आकर्षक रहती है। दवा कंपनियां मरीजों के सेहत के साथ खिलवाड़ कर रही है। इस बात का खुलासा एक दवा की जांच में हुआ है।

यमुनापार के भारतगंज कस्बे के एक मेडिकल स्टोर से अगस्त महीने में एंटीबायोटिक टेबलेट साफेक्सीन का नमूना लेकर जांच के लिए लखनऊ भेजा गया था। अब उसकी रिपोर्ट आई है। जांच रिपोर्ट के मुताबिक इस टेबलेट में एंटीबायोटिक का कोई तत्व ही नहीं मिला। इसको खाने से कोई असर नहीं होगा। एंटीबायोटिक संक्रमण कम करने के लिए दी जाती है। इस दवा को खाने से संक्रमण कम ही नहीं हो सकता है। जब दवा बेअसर रहेगी तो संक्रमण बढ़ता रहेगा। इससे मरीजों को दोहरा नुकसान है।

औषधि निरीक्षक गोविंद लाल गुप्ता का कहना है कि यह दवा नकली है। इस दवा को बनाने वाली कंपनी नालागढ़ बड्डी हिमाचल प्रदेश की है। अब कंपनी को नोटिस जारी की जाएगी। इसके बाद मुकदमा भी दर्ज किया जाएगा।

प्लेसिबो दवाओं की बाजार में भरमार

इलाहाबाद। जिन दवाओं में कोई तत्व नहीं होता उनको प्लेसिबो कहा जाता है। इन दवाओं में संबंधित रोग के उपचार के फार्मूला के अनुसार कोई तत्व नहीं होता। एंटीबोयोटिक के साथ बुखार, पेट व अन्य रोगों की भी प्लेसिबो दवाएं बिक रही हैँ। इस श्रेणी की सबसे अधिक स्वास्थ्य वर्धक दवाएं बाजारों में बिक रही हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Pharmaceutical companies cheating with patients
इलाहाबाद ने मुझे लेखक बनायाअब ड्रोन से होगी ट्रेन और ट्रैक की निगरानी