DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बदलता मिजाज या सियासी रणनीति का हिस्सा

बदलता मिजाज या सियासी रणनीति का हिस्सा

मुस्लिम मतदाताओं के बारे में अमूमन कहा जाता है कि उनका स्टैंड भाजपा के खिलाफ होता है। भाजपा को हराने के लिए मुस्लिम किसी भी अन्य प्रत्याशी को वोट डाल सकते हैं। लेकिन मांडा के भारतगंज पोलिंग बूथ पर दिखा नजारा कुछ और ही कहानी कहता है। यहां वोट देने आई एक बुर्कानशीं ने खुलेआम अपना दोनों हाथ दिखाया जिस पर कमल के निशान लगे थे। कुछ लोग इसे मुस्लिम मतदाताओं का बदलता मिजाज कहते हैं तो कुछ लोग सियासी रणनीति का हिस्सा मानते हैं।

आम मुस्लिम मतदाताओं को भाजपा और मोदी-योगी सरकार का विरोधी माना जाता है। लेकिन तीन तलाक जैसे मुद्दे पर जिस तरह मोदी सरकार ने स्टैंड लिया, उससे मुस्लिम महिलाओं का रवैया बदला हुआ माना जा रहा है। अपनी आजादी और हक के लिए छटपटाती मुस्लिम महिलाएं खास कर युवतियां मोदी के प्रति झुकाव रख रही हैं, ऐसा सियासत के जानकार कहते हैं। ठीक इसके विपरीत लोग मान रहे हैं भाजपा जानबूझकर ऐसे हथकंडे अपना रही है। कुछ मतदाताओं को मैनेज कर मुस्लिमों में यह संदेश देने की कोशिश है कि समाज की महिलाएं अपना फैसला खुद लेने की ओर अग्रसर हैं। हालांकि इस तरह खुलेआम पार्टी चिह्न का प्रदर्शन निर्वाचन आचार संहिता के खिलाफ है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Part of changing moods or political strategy