DA Image
23 जनवरी, 2020|9:00|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अध्यापक की ज्वाइनिंग में देरी पर अफसर वेतन के जिम्मेदार

अध्यापक की ज्वाइनिंग में देरी पर अफसर वेतन के जिम्मेदार

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने एक आदेश में कहा है कि चयनित अध्यापक को आवंटित विद्यालय में ज्वाइन न कराने और कई वर्ष तक उससे काम नहीं लेने पर उस अवधि के उसके वेतन के भुगतान की जिम्मेदारी संबंधित अधिकारी और प्रबंध समिति की है। इनसे अध्यापक का वेतन वसूल किया जाना चाहिए। इसी के साथ कोर्ट ने अलीगढ़ के बाबूलाल जैन इंटर कॉलेज कृष्णा पुरी में चयनित अध्यापक को ज्वाइन न कराकर मुकदमेबाजी के लिए विवश करने पर जिला विद्यालय निरीक्षक अलीगढ़ को उस अध्यापक के वेतन का भुगतान करने और वेतन की रकम संबंधित प्रबंध समिति से वसूल करने का निर्देश दिया है।

यह आदेश न्यायमूर्ति रोहित रंजन अग्रवाल ने अध्यापक अमरपाल की याचिका पर उनके अधिवक्ता महेश शर्मा को सुनकर दिया है। एडवोकेट महेश शर्मा ने कोर्ट को बताया कि याची का चयन माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड से नागरिक शास्त्र विषय के अध्यापक के लिए हुआ था। उसे पहले दो विद्यालय आवंटित किए गए, जहां इस विषय के पद को लेकर के विवाद था। इस कारण याची वहां ज्वाइन नहीं कर सका। उसके बाद आठ अक्तूबर 1996 को डीआईओएस अलीगढ़ ने याची को बाबूलाल जैन इंटर कॉलेज आवंटित किया लेकिन विद्यालय प्रबंधन ने उसे ज्वाइन नहीं कराया। इस पर जिला विद्यालय निरीक्षक ने ज्वाइनिंग के लिए विद्यालय प्रबंधन को फिर से निर्देश दिया। इसके बावजूद याची को ज्वाइन नहीं कराया गया।

इसके बाद याची ने याचिका दाखिल की, जिस पर एकल पीठ ने विद्यालय की प्रबंध समिति को याची की ज्वाइनिंग कराने का आदेश दिया। इस आदेश को प्रबंध समिति ने विशेष अपील में चुनौती दी, जिसके खारिज होने के बाद एक जुलाई 1999 को याची को ज्वाइन कराया गया। साथ ही एक अगस्त 1999 से उसके वेतन का भुगतान किया गया। याची के अधिवक्ता महेश शर्मा का कहना था कि याची को विद्यालय का आवंटन वर्ष 1996 में हो गया था लेकिन प्रबंध समिति द्वारा ज्वाइन न कराने के कारण वह काम नहीं कर सका। इसमें याची की कोई गलती नहीं है इसलिए उसे नियुक्ति तिथि से वेतन का भुगतान किया जाए।

सरकारी वकील का कहना था कि उक्त अवधि में अध्यापक ने काम नहीं किया है इसलिए वह वेतन पाने का अधिकारी नहीं है। सुनवाई के बाद कोर्ट ने कहा अध्यापक से काम न लेना संबंधित अधिकारियों की गलती है कि वे अपने आदेश का अनुपालन नहीं करा सके। ऐसी स्थिति में जिला विद्यालय निरीक्षक अलीगढ़ अध्यापक की उस अवधि के वेतन का भुगतान करना सुनश्चिति करें।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Officer responsible for salary for delay in joining teacher