DA Image
26 फरवरी, 2020|11:24|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गोल्डेन कार्ड बनवाने के लिए पीएम का पत्र जरूरी

प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना के तहत पांच लाख रुपये तक के मुफ्त इलाज के लिए जिले में सभी सीएचसी, सरकारी व संबद्ध निजी अस्पतालों में आयुष्मान भारत के गोल्डेन कार्ड बनाए जा रहे है। 29 जून से 8 जुलाई तक आयुष्मान भारत हेल्थ कैंप पखवाड़े के तहत सीएचसी व अस्पतालों में यह जानकारी लाभार्थियों को दी गई। उन्हें बताया गया कि प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना का पत्र लेकर किसी भी सीएचसी, सरकारी अस्पताल या फिर संम्बद्ध निजी हॉस्पिटल में जाएं और आयुष्मान भारत कार्ड बनवाएं। जिससे बीमार होने पर पांच लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज करा सकें।

प्रधानमंत्री की महत्वाकांक्षी योजनाओं में शुमार पीएमजेएवाई के अंतर्गत ज्यादातर लाभार्थियों के कार्ड अब तक बने ही नहीं हैं। वर्ष 2011 की जनगणना सर्वे के आधार पर बीते वर्ष 30 अप्रैल 2018 को योजना के अंतर्गत दो लाख 33 हजार परिवार का सर्वे हुआ था। जिसमें एक लाख 561 परिवारों को प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना का पत्र भेजा गया था। इन परिवारों को गोल्डेन कार्ड भी जारी कर दिए गए थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Need a PM letter to create a Golden Card