DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सिविल लाइंस से अतिक्रमण हटाने के लिए उतरी अफसरों की फौज

इलाहाबाद। वरिष्ठ संवाददाता रोड पटरी विक्रेताओं को विरोध को देखते हुए सिविल लाइंस क्षेत्र में अतिक्रमण हटाने के लिए अफसरों की फौज सड़क पर उतरी। एडीएम सिटी के अलावा प्रशासन से कई एसीएम, नगर निगम और एडीए के सभी जोनल अधिकारियों की अगुवाई में दस्ते ने गुरुवार दोपहर कुल 13 अतिक्रमण ध्वस्त किया। अतिक्रमण हटाने का जगह-जगह विरोध हुआ। एमजी मार्ग पर एक दुकान के बाहर सामान रखने पर 50 अफसरों ने 50 हजार जुर्माना लगाया तो जबर्दस्त विरोध हुआ। विरोध करने वाले और अफसरों के बीच कहासुनी हुई। छिटपुट झड़प के बीच दस्ता अतिक्रमण हटाते हुए एमजी मार्ग पर एक मॉल के सामने पहुंचा। मॉल के सामने निजी जमीन से ठेले निकालकर तोड़ने का आजाद स्ट्रीट हॉकर्स यूनियन के सदस्यों ने विरोध शुरू कर दिया। कुछ मिनट में दर्जनों दुकानदार एकत्र हो गए। यूनियन के महासचिव रवि द्विवेदी और एडीए के विशेष कार्याधिकारी आलोक पांडेय के बीच बहस हुई। फेरी नीति पर बहस के बाद दस्ते ने ठेला तोड़ने की बजाए जुर्माना लगाया। इसी मार्ग पर दूसरे मॉल के पास निजी जमीन से ठेला निकालकर तोड़ने का विरोध हुआ। घंटों की कार्रवाई में दस्ते ने 10 ठेला, एक काउंटर, एक भट्ठी और एक टट्टर तोड़ा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:more than 15 officers removes 13 encroachment in civil lines