DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विनोद बी लाल समेत दो पर लगा गैंगस्टर

शुआट्स के प्रति कुलपति रहे विनोद बी लाल समेत दो के खिलाफ नैनी पुलिस ने गैंगस्टर के तहत कार्रवाई की। इन दिनों विनोद बी लाल बांदा जेल में बंद हैं। उनके खिलाफ नैनी समेत कई थानों में धोखाधड़ी समेत अन्य मामलों में अपराधिक मुकदमे दर्ज हैं।

नैनी पुलिस के अनुसार शुआट्स परिसर निवासी विनोद बी लाल व म्योराबाद निवासी डेविड दत्ता का एक संगठित गिरोह है। गैंग लीडर विनोद बी लाल समेत अन्य धोखाधड़ी व छलकपट कर आर्थिक अपराध करने के अपराधी हैं, जो निजी व भौतिक और आर्थिक लाभ के लिए अभिलेखों में हेरफेर कर कमाई करते रहे हैं। इनके डर से किसी ने न तो मुकदमा दर्ज कराया था और न ही कोई कोर्ट में गवाही देता था। पुलिस के अनुसार एडीए से अनुमति के बगैर काटजू रोड शाहगंज में क्रिश्चियन पब्लिक स्कूल चलाने के आरोप में 21 जुलाई 2017 को भाजपा काशी क्षेत्र के उपाध्यक्ष दिवाकर नाथ त्रिपाठी ने शाहगंज थाने में धोखाधड़ी व साजिश रचने का मुकदमा दर्ज कराया था। इसके बाद 9 अगस्त 17 को दिवाकर नाथ त्रिपाठी ने सिविल लाइंस थाने में धोखाधड़ी व साजिश रचने की एफआईआर दर्ज कराई। 25 अगस्त 2017 को महेवा नैनी निवासी शहीम सिद्दीकी ने नैनी थाने में फर्जीवाड़ा का केस दर्ज कराया। उसके बाद 17 दिसम्बर 2017 को दिवाकर नाथ त्रिपाठी ने फिर सिविल लाइंस थाने में धोखाधड़ी व साजिश रचने का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज कराया। उसी दिन वाराणसी स्थित काशी नरेश के केयरटेकर रूद्र नारायण पाठक ने भी मुट्ठीगंज थाने में फर्जीवाड़ा व धमकी देने का केस विनोद बी लाल समेत 11 लोगों पर दर्ज कराया था।

वर्जन

विनोद बी लाल व डेविड दत्ता के खिलाफ आर्थिक अपराध के कई मामले दर्ज हैं। दोनों के खिलाफ गैंगस्टर के तहत कार्रवाई की गई है। इन दिनों विनोद बी लाल बांदा जेल में निरुद्ध हैं।

-रत्नेश सिंह, सीओ करछना

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Gangster on two, including Vinod B Lal