DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चपरासी ने डिप्टी रेंजर को लगाई 20 लाख की चपत

इलाहाबाद में तैनात वन विभाग के डिप्टी रेंजर को एक स्कूल के चपराई ने बेटों को सरकारी नौकरी दिलाने के नाम पर 20 लाख रुपये की चपत लगाई है। थरवई पुलिस भी मुकदमा दर्ज नहीं कर रही है। शुक्रवार को पीड़ित ने एसएसपी कार्यालय में लिखित शिकायत की। थरवई थाना क्षेत्र के डालतिवारी का पुरा गांव निवासी अवध नारायण मिश्र विन विभाग में डिप्टी रेंजर है। उन्होंने बताया कि अमेठी स्थित एक स्कूल के चपरासी से उनका परिचय हुआ था। बेटी की शादी के लिए वह बातचीत करते थे। इस दौरान 2016 में चपरासी ने उन्हें झांसा में लेकर बताया कि फैजाबाद के सेल टैक्स कमिश्नर उसके परिचित है। वह उनके दोनों बेटों की सेल टैक्स में नौकरी लगा देगा। दोनों बेटों की सरकारी नौकरी के लिए 20 लाख रुपये की मांग की। डिप्टी रेंजर ने जीपीएफ से रुपये निकाले। एलआईसी से लोन लेकर 20 लाख रुपये इकट्ठा किए। कई बार में स्कूल के चपरासी को रुपये दिए। रुपये लेने के बाद चपरासी ने फर्जी ज्वाइनिंग लेटर भी दिया। लेकिन जब नौकरी मिलने की बात आई तो उसका मोबाइल स्विच ऑफ हो गया। पीड़ित ने थरवई पुलिस से मदद की गुहार लगाई। एसओ कार्रवाई के नाम पर आश्वासन देते रहे लेकिन मुकदमा दर्ज नहीं किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Chaprasi installed a Deputy Ranger with Rs 20 lakh sap