DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चार हजार उर्दू शिक्षक पद के आवेदकों को भर्ती का इंतजार

बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक स्कूलों में चार हजार उर्दू शिक्षक भर्ती के आवेदकों का इंतजार खत्म नहीं हो रहा। प्रदेश में सरकार बदलने के बाद 23 मार्च 2017 को 12460 सहायक अध्यापक भर्ती के साथ ही चार हजार उर्दू शिक्षक भर्ती भी रोक दी गई थी।

बाद में अभ्यर्थियों के आंदोलन के बाद 12460 भर्ती तो पूरी कर दी गई लेकिन उर्दू भर्ती की प्रक्रिया ठप पड़ी है। विधानसभा चुनाव से पहले 15 दिसंबर 2016 को उर्दू विषय के चार हजार सहायक अध्यापकों की भर्ती शुरू हुई थी। इसके लिए 11 हजार अभ्यर्थियों ने ऑनलाइन आवेदन किया था।

22 व 23 मार्च को भर्ती के लिए जिलों में काउंसिलिंग होनी थी लेकिन 23 को प्रक्रिया रोक दी गई। इसके बाद अभ्यर्थियों ने हाईकोर्ट में याचिका कर दी। हाईकोर्ट ने 3 नवंबर 2017 को भर्ती पूरी करने का आदेश दिया लेकिन सरकार ने सिंगल बेंच के आदेश के खिलाफ डबल बेंच में अपील कर दी।

डबल बेंच ने भी 12 अप्रैल 2018 को भर्ती करने का आदेश दिया। लेकिन प्रक्रिया अब तक शुरू नहीं हो सकी है। सरकार के रुख से दु:खी आवेदकों ने अवमानना याचिका कर दी है। इससे पहले 4280 और 3500 सहायक अध्यापकों की भर्ती हो चुकी है।

इनका कहना है

चार हजार उर्दू भर्ती पूरी करने के लिए पिछले चार महीने में पांच बार हम मुख्यमंत्री से मिल चुके हैं। उनका कहना है कि वे पहले जांच कराएंगे, उसके बाद भर्ती करेंगे। पूर्व में हाईकोर्ट ने दो बार भर्ती पूरी करने का आदेश सरकार को दिया है। अब हमने अवमानना याचिका दायर की है।

जुबैर, उर्दू भर्ती के आवेदक

पिछले 15 महीने में हम आवेदनकर्ता मानसिक रूप से बहुत परेशान हो चुके हैं। इन 15 महीनों में 6 आवेदनकर्ताओं की मौत हो चुकी है। सरकार से अनुरोध है कि भर्ती जल्द से जल्द पूरी करे।

कनीज अफरोज, आवेदक

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Applicant of urdu teachers wait for recruitment