DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कार्तिक मेले में बदहाल पड़ा है बलुआघाट

प्रयागराज वरिष्ठ संवाददाता

कुम्भ की तैयारी में जुटे प्रशासन को स्थानीय मेलों की सुध नहीं है। कार्तिक मेले में यमुना के बदहाल घाटों पर लोग डूबकी लगा रहे हैं। बलुआ घाट के दोनों किनारों पर गंदगी का अंबार लगा है। इससे क्षेत्रीय लोगों में काफी आक्रोश हैं।

कार्तिक का महीना 15 दिन बीत चुका है। अभी तक घाट की सफाई नहीं कराई गई है। बलुआघाट पर ही स्नान करने वालों की तादाद अधिक रहती है। यहीं पर एकादशी के दिन बड़ा आयोजन होता है। बारादरी के आसपास गंदगी का अंबार लगा है। क्षेत्रीय लोगों का कहना है कि शिकायत के बाद भी कोई सुनने वाला नहीं है।

इस घाट पर प्रतिदिन स्नान करने वाले श्यामजी अग्रवाल बताते है कि कई बार नगर निगम व प्रशासन के अधिकारियों से शिकायत की गई। लेकिन हालात जस के तस हैं। गंदगी से उठ रही दुर्गंध से डुबकी लगाना मुश्किल हो गया है। महिलाओं के लिए भी यहां पर चेंजिंग रूम भी नहीं बनाए गए हैं। कीडगंज की सरला देवी ने बताया पिछले 15 दिन से घाट के दोनों छोरों पर गंदगी का ढेर लगा है। अब तक सफाई के लिए कोई नहीं आया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: