DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तत्काल कराया जाए गन्ना किसानों का भुगतान

समाजवादी पार्टी ने लधौआ स्थित आनंद एग्रो केम इंडिया लिमिटेड चीनी मिल गेट पर रविवार धरना प्रदर्शन किया। भारी संख्या में मौजूद सदस्यों और पदाधिकारियों ने गन्ना किसानों का हजारों करोड़ रुपया बकाया होने का विरोध किया।

धरना प्रदर्शन में जिलाध्यक्ष अशोक यादव ने कहा कि देश में सबसे ज्यादा गन्ना उत्तर प्रदेश में पैदा होता है। लागत के साथ ही किसान कड़ी मेहनत कर गन्ना उगाता है। वर्ष 2017-18 में प्रदेश के किसानों ने चीनी मिलों को गन्ना आपूर्ति की थी। जिसका के करीब 15 हजार करोड़ रुपया चीनी मिलों पर बकाया है। अन्नदाता का करोड़ों रुपया मिल मालिक दबाए बैठे है, और सरकार किसानों की हितैषी बनने का राग अलाप रही है। सरकार की यह दोहरी नीति जनता समझ चुकी है। आने वाले चुनाव भाजपा को इसका एहसास हो जाएगा। पूर्व विधायक जफर आलम ने कहा कि प्रधानमंत्री ने हमेशा अपने मन की बात कही, लेकिन कभी किसानों के मन की बात सुनी नहीं। 80 प्रतिशत आबादी किसानों की है, और किसानों की फसल का भुगतान न करना ठीक नहीं है। पूर्व विधायक ठाकुर राजेश सिंह ने कहा कि क्षेत्र के गन्ना किसानों का बकाया दिलाने के लिए कई बार गन्ना मंत्री सुरेश राणा से गुहार लगा चुके है, लेकनि भाजपा सरकार के कानों पर जूं नहीं रेंग रहा है। पूर्व विधायक वीरेश यादव ने कहा कि गन्ना प्रदेश के बड़े क्षेत्र में लाखों किसान उगाते है। मगर अफसोस की बात तो यह है कि इन किसानों अपनी ही मेहनत का रुपया नहीं मिल पाता है। मुजाहिद किदवई ने कहा कि प्रदेश में गरीब, किसान व मजदूरों का कोई हितैषी नहीं है। इस मौके पर महानगर अध्यक्ष जावेद अजीज, अज्जू इशहाक, शिशुपाज सिंह, राजपाल यादव, संजय यादव, डॉ. रक्षा पाल सिंह, पूरनमल, कबीर खान, शाकिर अंसारी, साहिल रावत, मदन लाल ठाकुर, सितरा बेगम, सुधा गुप्ता आदि मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Payment of cane farmers to be done immediately