DA Image
Sunday, November 28, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश अलीगढ़निर्धन व्यक्तियों की बेटियों की शादी में रूचि नहीं ले रहे अफसर

निर्धन व्यक्तियों की बेटियों की शादी में रूचि नहीं ले रहे अफसर

हिन्दुस्तान टीम,अलीगढ़Newswrap
Thu, 28 Oct 2021 07:45 PM
निर्धन व्यक्तियों की बेटियों की शादी में रूचि नहीं ले रहे अफसर

-समाज कल्याण विभाग द्वारा संचालित शादी अनुदान के हजारों आवेदन लंबित

-निदेशक समाज कल्याण ने प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों को दिए निर्देश

-अलीगढ़ में 987, आगरा में 858, इलाहाबाद में साढ़े तीन हजार से भी ज्यादा आवेदन

-विभाग द्वारा एससी व सामान्य वर्ग के निर्धन व्यक्तियों की बेटी की शादी को देता है अनुदान

कार्यालय संवाददाता। अलीगढ़।

समाज कल्याण विभाग द्वारा एससी व सामान्य वर्ग के निर्धन व्यक्तियों की बेटियों की शादी को चलाई जा रही योजना में अफसर रूचि नहीं रहे हैं। यही वजह है कि प्रदेशभर मे हजारों की संख्या में आवेदन लंबित हैं। निदेशक समाज कल्याण ने इस पर नाराजगी जताते हुए सूबे के सभी डीएम को पात्रों को लाभ दिलवाए जाने के निर्देश दिए हैं।

समाज कल्याण विभाग द्वारा संचालित शादी-विवाह अनुदान योजना के तहत एससी व निर्धन व्यक्तियों की बालिकाओं की शादी के लिए 20 हजार रुपए का अनुदान दिया जाता है। कोरोना काल में अनुदान के लिए बजट जारी न होने से भी आवेदकों को लाभ नहीं मिल सका था। बीते दिनों समाज कल्याण के निदेशक राकेश कुमार ने शादी अनुदान योजना की समीक्षा की। जिसमें पाया कि पीएफएमएस द्वारा स्वीकृत आवेदन पत्र जनपद स्तर पर भुगतान के लिए लंबित चल रहे हैं। जनपदों में योजना के तहत धनराशि उपलब्ध है, इसके बाद भी स्वीकृत आवेदकों को भुगतान नहीं किया गया है। वहीं ब्लाक व तहसील स्तर पर सत्यापन से संबंधित प्रगति भी धीमी है, इससे ऐसा प्रतीत होता है कि योजना से संबंधित अधिकारियों व कर्मचारियों द्वारा आवेदन पत्रों निस्तारण में रूचि नहीं ली जा रही है।

0-यह होनी चाहिए पात्रता

शादी अनुदान योजना का लाभ प्राप्त करने वाले परिवार की वार्षिक आय गरीबी की सीमा के अंतर्गत होनी चाहिए। ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले लोगों की वार्षिक आय 46080 रूपये और शहरी क्षेत्र के लोगों की वार्षिक आय 56460 रूपये से अधिक नहीं होनी चाहिए। विवाह हेतु किये जाने वाले आवेदन में पुत्री की आयु शादी की तिथि को 18 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए और वर की आयु शादी के समय 21 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए। इस योजना के तहत एक परिवार से अधिकतम 2 लड़कियों को अनुदान देने की व्यवस्था है।

0-प्रमुख जिलों में लंबित आवेदन

आगरा-858

अलीगढ़-987

इलाहाबाद-3590

अंबेडकर नगर-1153

अमेठी-1132

अमरोहा-880

औरेया-757

आजमगढ़-2660

बागपत-181

बस्ती-1735

बुलंदशहर-811

एटा-514

गाजियाबाद-184

गोरखपुर-2547

हाथरस-447

0-वर्जन

शादी अनुदान योजनाओं के आवेदन का निरस्तारण कराते हुए पात्रों को लाभ दिलाया जा रहा है। जल्दी ही सभी पात्रों का लाभ दिया जाएगा।

-मनीष कुमार, जिला समाज कल्याण अधिकारी

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें