DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एएमयू में मेडिकल छात्र से रैगिंग का आरोप, एमएचआरडी सख्त

एएमयू के जेएन मेडिकल कॉलेज में प्रथम वर्ष के छात्र से रैगिंग का मामला सामने आया है। पीड़ित छात्र ने प्रॉक्टर व मानव संसाधन विकास मंत्रालस से प्रकरण की शिकायत की है। एमएचआरडी ने विभाग के चेयरमैन से संपर्क कर जानकारी जुटाई है। मामला मेडिकल कॉलेज के बेहोशी विभाग से जुड़ा है। यहां के छात्र जेआर-वन डॉक्टर जावेद ने प्रॉक्टर व मानव संसाधन विकास मंत्रालय के पोर्टल और पत्र भेजकर आरोप कि विभाग के ही सीनियर छात्र ने उसके साथ मारपीट व रैगिंग की है। इस पर एमएचआरडी ने प्रकरण का संज्ञान लेते हुए विभाग के चेयरमैन से संपर्क किया। विभाग की ओर से बताया गया कि दोनों ही छात्र एक ही हॉस्टल हादी हसन हॉल में रहते हैं। किसी काम को लेकर दोनों में कहासुनी हो गई थी। इंतजामियां ने रैगिंग जैसी आरोपों को बेबुनियाद बताया गया है।अधिकारी कुछ भी बोलने से बच रहे : आरोपी छात्र का कहना है कि उक्त छात्र पूर्व में भी अन्य छात्रों पर इस तरह के आरोप लगा चुका है, जो जांच में बेबुनियाद पाये गए। उसने आरोपों को गलत बताया। वहीं, कैंपस में रैगिंग का मामला सामने आने से खलबली मच गई है। अधिकारी कुछ भी बोलने से कतरा रहे हैं। इस संदर्भ में विभाग के चेयरमैन प्रोफेसर मुईद से संपर्क किया गया तो उन्होंने कहा कि वह अभी बाहर हैं। वापस लौटने के बाद ही इस बारे में कुछ बताया जा सकता है।

दोनों छात्रों में आपस में झगड़ा हुआ है। रैंगिग की शिकायत करने की बात सामने जरूर आई है। छात्र के साथ किसी भीतरह की कोई रैगिंग नहीं हुई है। किसी काम को लेकर कहासुनी हो गई थी। गुरुवार को दोनों छात्रों को बुलाया गया है। बयान दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जाएगी। -प्रोफेसर अफीफुल्लाह, प्रॉक्टर, एएमयू।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:MHRD strict on raging complaint at JN Medical College