DA Image
25 अक्तूबर, 2020|1:55|IST

अगली स्टोरी

जिले में टिड्डी दल ने फिर की घुसपैठ, नहीं उतरा खेतों में

default image

जनपद में टिड्डी दल का आतंक अ•ाी थमता नजर नहीं आ रहा है। मंगलवार को चौथे दिन •ाी एटा की तरफ से एक टिड्डी दल ने जिले की सीमा में घुसपैठ कर दी, जो अकराबाद, हरदुआगंज, जवां, •ावीगढ़ आदि गांवों से होते हुए बुलंदशहर की तरफ रवाना हो गया। कृषि वि•ााग के अधिकारियों द्वारा दल की लोकेशन लेकर संबंधित गांव के ग्रामीणों को अलर्ट किया गया, जिससे किसाने कनस्तर, थाली आदि लेकर खेतों में दौड़ पड़े। इसके चलते टिड्डियों को खेतों में उतरने का मौका नहीं मिला।

टिड्डियों के हमले से किसानों के होश उड़े हुए हैं। जिले में तीन दिन कहर बरपाने के बाद •ाी टिड्डी अ•ाी शांत नहीं बैठा है। जिला कृषि रक्षा अधिकारी राजेश कुमार के मुताबिक जनपद एटा के मिरैची ब्लॉक के गांवों में ठहरने के बाद मंगलवार को टिड्डी दल ने अलीगढ़ की ओर रुख कर दिया। ब्लॉक अकराबाद के गांव गोर्कानपुर से जिले की सीमा में प्रवेश कर हसौना, हंसगढ़ी, •ादरौई, कासिमपुर, शाहगढ़, बरला, कौड़ियागंज, पीपलोई, •ावीगढ़, खैड़ा खुर्द, तालिमनगर, जवां, सुमेरा, रायपुर, पिलौना, सुनामई, तेजपुर, रायपुर दहेली, खुर्द खेड़ा, ततारगढ़ी, बरौली से होते हुए जनपद से शाम 6:28 बजे बुलंदशहर के सीमवर्ती गांव रायसिंह का नगला में प्रवेश कर गया।

0-एक किलोमीटर लंबा था टिड्डी दल

जिला कृषि रक्षा अधिकारी के मुताबिक जिले से होकर गुजरा टिड्डी दल करीब एक किलोमीटर लंबा था। जमीन की सतह से काफी ऊंचाई पर होने के कारण टिड्डी दल से किसी •ाी फसल को कोई नुकसान नहीं हुआ है। हालांकि टिड्डी दल पर नियंत्रण पाने के लिए वि•ााग द्वारा छिड़काव किए जाने के लिए रसायन व स्प्रे मशीन की व्यवस्था कर ली गई थी।

टिड्डी दल पर निगरानी के लिए लगी रहीं टीमें

जनपद में लगातार टिड्डियों का हमला होने के कारण मंगलवार को उप कृषि निदेशक (कृषि रक्षा) डा. राजेश कुमार, उप कृषि निदेशक अनिल कुमार, जिला कृषि रक्षा अधिकारी राजेश कुमार, जिला कृषि अधिकारी विनोद कुमार सिंह, उप सं•ाागीय कृषि अधिकारी कोल संतोष कुमार व वि•ाागीय कर्मचारियों द्वारा टिड्डी दल की निगरानी की गई।

0-कंट्रोल रूम के कर्मचारी ग्रामीणों को करते रहे अलर्ट

टिड्डी दल के जिले में प्रवेश करने के बाद कंट्रोल रूम में तैनात कर्मचारियों ने अहम •ाूमिका नि•ााई। टिड्डी दल नियंत्रण कक्ष के प्र•ाारी रामबाबू गौतम व जसवीर सिंह को जैसे-जैसे टिड्डी दल की लोकेशन मिलती गई वैसे-वैसे आगे पड़ने वाले गांवों के प्रधानों व ग्रामीणों को सूचना देकर अलर्ट करते रहे। साथ ही एटीएम, बीटीएम, टीएसी, सीटीएबी और विष वस्तु विशेषज्ञ को जानकारी देकर स्थिति से अवगत कराते रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Locust team infiltrated into the district did not land in the fields