DA Image
10 अप्रैल, 2021|4:50|IST

अगली स्टोरी

वेस्ट यूपी में कृषि लोन पर सबसे ज्यादा एनपीए: मुख्य प्रबंधक

default image

वेस्ट यूपी में सबसे अधिक कृषि ऋण पर एनपीए हो रहा है। एनपीए कम करने की दिशा में किसानों को केसीसी योजना से जोड़ने का काम किया जाएगा। एसबीआई के मुख्य महाप्रबंधक विजयो रंजन ने कहा कि एनपीए बढ़ रहा है इसमें कोई दो राय नहीं है। लेकिन इसको कम करने व सुधार की दिशा में बैंक लगातार काम कर रहे हैं। वेस्ट यूपी में करीब छह फीसदी कृषि लोन एनपीए दर्ज किया गया है। इसमें सुधार को किसानों की आय बढ़ाने के लिए केसीसी योजना से जोड़ा जा रहा है।

गुरुवार को मुख्य प्रबंधक दिल्ली वृत विजोय रंजन ने अलीगढ़ का दौरा किया। उन्होंने एसबीआई की मुख्य शाखा घंटाघर व डीबीएस कॉलेज में सीनियर सिटीजन लाउंज का उद्घाटन किया। चीफ जनरल मैनेजर ने कहा कि एसबीआई की प्राथमिकता ग्राहकों को सुरक्षित व सुविधाजनक बैंकिंग सुविधाएं उपलब्ध कराना है। शहरी क्षेत्र के साथ ग्रामीण क्षेत्रों में भी बैंकिंग सुविधाओं को मजबूत किया जा रहा है। ऑनलाइन बैंकिंग से ग्राहकों को सहूलियत मिल रही है, लेकिन संचालन सावधानी के साथ करना होगा। अलीगढ़ दौरे पर आए मुख्य प्रबंधक दिल्ली वृत विजोय रंजन ने कहा कि करीब छह फीसदी एनपीए कृषि लोन में दर्ज की गई है। जिसे कम करने और किसानों की आय बढ़ाने के लिए केसीसी योजना से किसानों को जोड़ा जा रहा है। यूपी वेस्ट में एनपीए को कम करने और किसानों की आय दोगुनी करने पर बैंक और सरकार की योजनाओं को सबके सामने रखा। कहा कि किसानों को डेयरी फार्म योजना से जोड़कर उनको अन्य रोजगारों से भी जोड़ा जा रहा है। जिससे उनकी आय के स्रोत बढ़ें और बैंक का लोन चुकता कर सकें। इस मौके पर डीजीएम आगरा देवाशीष मित्रो, सहायक महाप्रबंधक देवेश मित्तल, वरिष्ठ प्रबंधक ऋतु भारद्वाज, आलोक शर्मा, आशुतोष सिंह, एके सिंह, पदमा सिंह, ज्योत्सना सिंह, एसके पचौरी, संजय सिंह, गोपाल शर्मा, अरविंद संवेदित आदि मौजूद रहे।

सिविल स्कोर मेंटेन रखना जरूरी

-मुख्य महाप्रबंधक एसबीआई दिल्ली वृत्त ने कहा कि सरकारी योजनाओं व अन्य योजनाओं के लोन के आवेदन के लिए सिविल स्कोर को दुरुस्त रखना होगा। सिविल स्कोर सही नहीं होने पर भी बैंक से लोन नहीं मिल पाता है। बैंक से लिए गए कर्ज का भुगतान नहीं करने पर सिविल यानि क्रेडिट वैल्यू घट जाती है। बैंक को अलीगढ़ ज़िले में पीएम मुद्रा लोन समेत अन्य योजनाओं के 5200 आवेदन प्राप्त हुए। जिसमें से 4538 लोगों को लोन दिए गए। यानि करीब 90 प्रतिशत लोनिंग हुई है। अलीगढ़ के उद्यमियों के लिए क्लस्टर लोनिंग की सुविधा शुरू है। साइबर अपराध पर बताते हुए कहा कि बैंक के पास सभी जानकारी है। बैंक कभी व्यक्तिगत जानकारी नहीं मांगता है।

रजिस्टर से शुरू बैंक मोबाइल में समा गया : हरीराम

-गुरुवार को स्टेट बैंक के मुख्य शाखा में आजादी से पहले के खाताधारक हरीराम गुप्ता को मुख्य प्रबंधक दिल्ली वृत विजोय रंजन ने शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया। हरीराम गुप्ता ने बताया खाता बैंक में वर्ष 1944 से हैं। उस समय वह छात्र हुआ करते थे। पिताजी पूरे साल का खर्चा एक साथ बैंक में जमा करवा देते थे और कहते थे एक साल तक अपने खर्चे के लिए मुझसे पैसे न मांगना। उस समय पिताजी ने पहली बार पांच सौ रुपये बैंक में जमा करवाए थे। तब स्टेट बैंक इंपीरियल बैंक हुआ करता था। तब रजिस्टर में जमा और निकासी दर्ज की जाती थी। आज पूरा बैंक मोबाइल में ही समा गया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Highest NPA on agricultural loans in West UP Chief Manager