DA Image
Tuesday, November 30, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश अलीगढ़अच्छी खबर: यमुना नदी पर बनने वाले पुल के लिए शुरू हुआ जमीन चिन्हित का कार्य

अच्छी खबर: यमुना नदी पर बनने वाले पुल के लिए शुरू हुआ जमीन चिन्हित का कार्य

हिन्दुस्तान टीम,अलीगढ़Newswrap
Wed, 27 Oct 2021 09:15 PM
अच्छी खबर: यमुना नदी पर बनने वाले पुल के लिए शुरू हुआ जमीन चिन्हित का कार्य

अच्छी खबर: यमुना नदी पर बनने वाले पुल के लिए शुरू हुआ जमीन चिन्हित का कार्य

-110 करोड़ की लागत से 600 मीटर लंबे पुल का होगा निर्माण

-उत्तर प्रदेश और हरियाणा के 95 गांवों को मिलेगा लाभ

फोटो-

कार्यालय संवाददाता। अलीगढ़।

यमुना नदी पर बनने वाले पुल के लिए जमीन चिन्हित किए जाने का कार्य शुरू हो गया है। बुधवार को प्रशासन, पुलिस व सेतु निगम के अफसरों ने साइट का निरीक्षण किया। करीब 110 करोड़ की लागत से 600 मीटर लंबे पुल का निर्माण होना है। यूपी व हरियाणा के 95 गांवों को इसका लाभ मिलेगा।

जिले के गांव मालव से हरियाणा के जिला पलवल के हसनपुर तक निर्माण होने वाले पुल को शासन ने 13 अक्टूबर 2019 को स्वीकृति प्रदान कर दी थी। मगर दोनों राज्य बीच सहमति और सर्वे में समय लग गया। साथ ही कोरोना के कारण और भी देरी हुई। इसके बाद सरकार ने इस सेतु निर्माण को 15 करोड़ की पहली किश्त जारी कर दी। साथ ही पश्चिम बंगाल की कम्पनी को टेंडर भी हो गया है। शासन का लक्ष्य है कि दो साल के भीतर पुल का निर्माण कार्य पूरा करना है। हसनपुर (हरियाणा) से मालव (यूपी) तक साढ़े छह किलोमीटर पुल व एप्रोच पर करीब 11022.24 लाख (एक अरब 10 करोड़ 22 लाख चौबीस हजार) रुपये की स्वीकृति प्रदान की गई है। इसमें नदी के ऊपर लगभग 600 मीटर का पुल और हरिणाया के पलवल जनपद में दो किमी और उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ जनपद के चार किमी एप्रोच मार्ग का भी निर्माण कार्य होना है। बुधवार को सेतु निगम के डीपीएम वीरेन्द्र सिंह चौहान व अन्य अधिकारियों ने पुल निर्माण वाली साइट का निरीक्षण किया। खैर तहसील से पुल बनने वाले मार्ग में आने वाली सरकारी व गैर सरकारी जमीन का रिकार्ड निकलवाया जा रहा है। पुल के एप्रोच के लिए लगभग साढ़े 11 हेक्टेयर भूमि का अधिग्रहण भी किया जाना है।

0-पुल बनने से यूपी व हरियाणा के इन गांवों को होगा फायदा

अलीगढ़। हसनपुर (हरियाणा) से मालो (यूपी) तक बनने वाले साढ़े छह मीटर लंबे पुल से हरियाणा राज्य के जिला पलवल के होडल, हसनपुर, रामगढ़, शोलाका, पिंगोर, नखरोला, खमारी, गुलावाद, जटौली, लीखी और भिड़ूकी गांव समेत लगभग 50 गांव एवं राष्ट्रीय राज्यमार्ग-2 से उत्तर प्रदेश राज्य के अलीगढ़ जिले के ग्राम मालव, मेवागढ़ी, तिलकगढ़ी, सिमरौठ, नरवारी, जहांनगढ़, टप्पल, हेतलपुर, ताहरपुर, जट्टारी, खंडेहा गांव सहित 45 गांवों के लोगों को सीधा फायदा पहुंचेगा।

0-84 कोसी परिक्रमा करने वालों को मिलेगी सुविधा

ब्रज क्षेत्र में 84 कोस परिक्रमा की काफी मान्यता है। यह परिक्रमा (252 किमी.) तीन राज्यों से होकर गुजरती है। जिसमें उत्तर प्रदेश, हरियाणा व राजस्थान आता है। परिक्रमा के दौरान श्रद्धालुओं को नदी पार करनी पड़ती है। ऐसे में पक्का पुल बनने से श्रद्धालुओं को काफी सुविधा मिलेगी।

वर्जन

हसनपुर (हरियाणा) से मालव (यूपी) तक बनने वाले पुल के निर्माण के लिए जमीन चिन्हित किए जाने का कार्य शुरू हो गया है। अब देखा जा रहा है कि कितनी सरकारी व गैर सरकारी इसमें आ रही है।

-वीरेंद्र चौहान, डीपीएम, उत्तर प्रदेश सेतु निगम

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें