DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  अलीगढ़  ›  लूट, हत्या, डकैती व रंगरानी की वारदातों को अंजाम देने वाले दीपक मुर्गी का गैंग पंजीकृत
अलीगढ़

लूट, हत्या, डकैती व रंगरानी की वारदातों को अंजाम देने वाले दीपक मुर्गी का गैंग पंजीकृत

हिन्दुस्तान टीम,अलीगढ़Published By: Newswrap
Fri, 25 Jun 2021 04:30 AM
 लूट, हत्या, डकैती व रंगरानी की वारदातों को अंजाम देने वाले दीपक मुर्गी का गैंग पंजीकृत

लूट, हत्या, डकैती व रंगरानी की वारदातों को अंजाम देने वाले दीपक मुर्गी का गैंग पंजीकृत किया गया है। पुलिस रिकॉर्ड में डी-72 नाम से यह गैंग दर्ज किया गया है।

कस्बा जट्टारी के एक कारोबारी से जेल से छूटने के छह दिन बाद ही रंगदारी मांगने और न देने पर उसके घर में डकैती डालने के आरोपी कुख्यात दीपक उर्फ मुर्गी उर्फ धर्मेंद्र के गैंग को पुलिस ने पंजीकृत करने की कार्रवाई की है। इस गैंग को डी-72 के नाम से पंजीकृत किया गया है। थाना टप्पल क्षेत्र के कुख्यात दीपक उर्फ मुर्गी उर्फ धर्मेंद्र पुत्र मुनेश चौधरी (गैंग लीडर) हिम्मत पुत्र जल सिंह (सदस्य) निवासीगण जरतौली रोड़ कस्बा जट्टारी, टप्पल, हेमंत फौजदार पुत्र दीपचंद (सदस्य) निवासी ग्राम सिनसिनी थाना डींग जनपद भरतपुर, राजस्थान हाल निवासी कस्बा जट्टारी, टप्पल, अजय पुत्र वीनेश (सदस्य) निवासी ग्राम ततारपुर थाना धारूहेड़ा जनपद रेवाड़ी, हरियाणा, आदित्य गुर्जर उर्फ आदेश विकल पुत्र स्व: मस्तराम विकल (सदस्य) निवासी ग्राम महावढ़ थाना बादलपुर, नोएडा व मोहित शर्मा उर्फ टीटू पंडित पुत्र लीलू शर्मा (सदस्य) निवासी ग्राम महावढ़ थाना बादलपुर, नोएडा की बढ़ती आपराधिक गतिविधियों पर अंकुश लगाने एवं विशेष निगरानी रखने के लिए जनपद स्तर पर गैंग श्रेणी-डी-72/2021 पंजीकृत किया गया। इस गैंग द्वारा संगठित होकर मुख्य रूप से डकैती, वाहन लूट, हत्या, हत्या का प्रयास, धोखाधड़ी जैसे जघन्य अपराध करने के अपराधों को अंजाम दिया जाता था। इनके आपराधिक कृत्यों से जनता में भय व असुरक्षा की भावना बनी हुई है। समय-समय पर वैधानिक निरोधात्मक कार्रवाई के बाद भी इनका जनता में भय एवं आतंक व्याप्त है। इसी कारण इस गैंग को पंजीकृत किया गया है।

-लूट, हत्या, डकैती व रंगरानी की वारदातों को अंजाम देने वाले दीपक मुर्गी का गैंग पंजीकृत पंजीकृत किया गया है। दीपक मुर्गी पहले से ही जेल में बंद है।

कलानिधि नैथानी, एसएसपी

संबंधित खबरें