DA Image
1 अगस्त, 2020|3:56|IST

अगली स्टोरी

ईद-उल-अजहा : आज घर में होगी अदा होगी बकरीद की नमाज, होगी खुदा की इबादत

default image

ईद-उल-अजहा की नमाज शनिवार को पूरी घरों में अदा की जाएगी। लोग पूरी सुरक्षा और सकर्त के साथ अपने घर में रहकर खुदा की इबादत करेंगे। वहीं मस्जिद में पांच लोग ईद-उल-अजहा की नमाज अदा करेंगे। शहर मुफ्ती मो. खालिद हमीद ने शहर के लोगों से अपील की है कि वह त्योहार में सुरक्षित रहें और बहुत ज्यादा जरूरी हो तभी घर के बाहर निकलें।महामारी के कारण इन दिनों सभी तरह के सामूहिक कार्यक्रमों पर रोक लगी हुई है। जिसके चलते शहर मुफ्ती ने लोगों से अपील करी की बकरीद की नमाज सभी अपने परिवार के साथ घर पर ही अदा करें। मस्जिदों में सिर्फ पांच लोग ही मौजूद रहें और खुदा की इबादत करें। इसके साथ ही उन्होंने शहरवासियों से यह भी अपील करी है कि त्योहार के समय किसी तरह का विवाद की स्थिति बिल्कुल भी न बनने दें। उन्होंने बताया कि बकरीद के साथ ही रक्षाबंधन का त्योहार भी पड़ रहा है। ऐसे में दोनों धर्म के लोग धार्मिक सद्भाव के साथ एक दूसरे से पेश आएं और शांति व्यवस्था कायम रखें। कुर्बानियां करने वालों से यह अपील की गई कि खुले मैदान में बिल्कुल न करें बल्कि इसे बंद जगह में करें। इसके साथ ही कुर्बानी के साथ जानवर के शरीर के अंगों और खून को हो सके तो दफनाएं या ऐसी जगह पर फेंकें जहां किसी को परेशानी न हो। कुर्बानी के बाद खून लगे कपड़ों में घर से बाहर न निकलें बल्कि साफ सुथरे कपड़े ही पहनें। जानवरों की खाल किसी बोरी या बंद चीज में रखकर ही बाहर लेकर जाने के लिए उन्होंने अपील की। समाजसेवी गुलजार अहमद ने बताया कि फजर की नमाज सुबह 5:10 तक अदा हो जाएगी। इसके बाद लोग अपने घरों में नमाज अदा करेंगे। उन्होंने बताया कि कुर्बानी का मलवा लोग सड़क पर बिल्कुल भी नहीं फेंकेंगे। उन्होंने लोगों से अपील करी कि अगर कहीं व्यवस्था नहीं है तो नगर निगम की मोबाइल वैन को फोन करें। यह वैन तुरंत लोगों के घर पर पहुंचकर मलवा एकत्रित करेगी। इसे खुले में बिल्कुल भी न फेकें।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Eid-ul-Azha Today Bakrid prayers will be performed in the house worship of God will be