DA Image
30 नवंबर, 2020|10:53|IST

अगली स्टोरी

एएमयू: घरों में रह रहे छात्र अभी न आए हॉस्टल, लौटना होगा वापस

default image

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय प्रशासन ने छात्र छात्राओं के नाम एक नया शासनादेश जारी किया है जितने विद्यार्थियों से कहा गया कि वह फिलहाल किसी भी तरह का ट्रेवल ना करें वह विश्वविद्यालय आते भी हैं तो उनको फिलहाल पोस्टर में जगह नहीं दी जाएगी मजबूरन उनको वापस लौटना होगा ऐसे में विद्यार्थी घरों पर ही रहे और ऑनलाइन कक्षा में बराबर भागीदारी करें पिछले कई दिनों से चंद विद्यार्थियों का कैंपस में आने का सिलसिला जारी हुआ तो उन्हें वापस किया गया इसी स्थिति को देखते हुए विश्वविद्यालय प्रशासन ने नया शासनादेश जारी किया है।

विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार अब्दुल हमीद आईपीएस की ओर से जारी शासनादेश में कहा गया कि घरों में रह रहे छात्र अभी हॉस्टल न आए। आते है तो मजबूरन वापस लौटना होगा। कुलसचिव अब्दुल हमीद आईपीएस की ओर से जारी सर्कुलर में विद्यार्थियो को कई तरह की एडवाइज दी गई है। कहां की अभी विश्वविद्यालय खोलने को लेकर एमएचआरडी से किसी तरह का कोई आदेश नही प्राप्त हुआ है। ऐसे में विद्यार्थियों को हॉस्टल में भी जगह नहीं दी जा सकती है। कहा कि कोई छात्र हॉस्टल आता है तो वापस लौटना होगा। बता दे कि विश्वविद्यालय के सभी हॉस्टल्स पर पहले से ही ताला लगा हुआ है। छात्रों से कहा जा रहा है कि वह किसी भी तरह का ट्रेवल फिलहाल ना करें। ट्रेवल करने से सिर्फ उनकी परेशानी बढ़ सकती है और कुछ नहीं। लॉकडाउन में फंसे करीब 1000 छात्र कैम्पस जरूर रुके हुए है। लेकिन यह विद्यार्थी भी अपने खाने-पीने का इंतजाम स्वयं कर रहे हैं इंतजाम में की ओर से समय-समय पर इन विद्यार्थियों को भी बराबर घर जाने के लिए कहा जा रहा है। लॉकडाउन के कुछ समय बाद विश्वविद्यालय प्रशासन ने सभी डाइनिंग बंद करा दी थी जिसके चलते विद्यार्थियों को अपने खाने-पीने का जिम्मा स्वयं उठाना पड़ा। विश्वविद्यालय प्रशासन की नई एडवाइजरी से कैंपस में आने की सोच रहे विद्यार्थी मायूस हो सकते हैं

--------

ऑनलाइन कक्षाओ में करें शत प्रतिशत भागीदारी

- विश्वविद्यालय प्रशासन ने अपने नए शासनादेश में ऑनलाइन कक्षाओं पर भी जोर दिया। कहा कि ऑनलाइन कक्षाएं प्रतिदिन चल रही है। विद्यार्थी उनमे शत प्रतिशत भागीदारी करें।

वर्जन

- विद्यार्थियों के नाम सर्कुलर जारी किया गया है। जिसमें उनसे कहा गया कि वह अनावश्यक ट्रेवल ना करें। विश्वविद्यालय अभी छात्र छात्राओं के लिए बंद है। ऐसे में हॉस्टल में भी आने की अनुमति अभी नहीं है। एमएचआरडी से संबंधित दिशा निर्देश मिलने के बाद विश्वविद्यालय स्तर से निर्णय लिया जाएगा।

अब्दुल हमीद, कुलसचिव, एएमयू

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:AMU Students staying in homes not yet hostels will have to return