DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › अलीगढ़ › एएमयू: छात्रों ने देश को स्वच्छ रखने के लिए किया प्रतिवर्ष 100 घंटे काम का संकल्प
अलीगढ़

एएमयू: छात्रों ने देश को स्वच्छ रखने के लिए किया प्रतिवर्ष 100 घंटे काम का संकल्प

हिन्दुस्तान टीम,अलीगढ़Published By: Newswrap
Mon, 11 Oct 2021 08:10 PM
एएमयू: छात्रों ने देश को स्वच्छ रखने के लिए किया प्रतिवर्ष 100 घंटे काम का संकल्प

एएमयू: छात्रों ने देश को स्वच्छ रखने के लिए किया प्रतिवर्ष 100 घंटे काम का संकल्प अलीगढ़। कार्यालय संवाददाता।

एएमयू के शिक्षा विभाग के शिक्षकों, छात्रों और गैर-शिक्षण कर्मचारियों ने अपने आस-पास और देश को स्वच्छ रखने के लिए प्रतिवर्ष 100 घंटे काम करने का संकल्प लिया। गांधी जयंती के उपलक्ष में आयोजित स्वच्छता समारोह में आनलाइन शपथ का संचालन शिक्षा विभाग की अध्यक्ष प्रोफेसर नसरीन ने किया।

उन्होंने स्टाफ सदस्यों से शहरों और गांवों में स्वच्छ भारत मिशन के संदेश का प्रचार करने का भी आग्रह किया। गांधी के शिक्षा दर्शन पर बोलते हुए प्रोफेसर नसरीन ने कहा कि गांधीवादी शैक्षिक विचार विकास के लिए प्रासंगिक हैं और बेरोजगारी, गरीबी, भ्रष्टाचार और कई अन्य समस्याओं का समाधान प्रस्तुत करते हैं। डॉ. मोहम्मद हनीफ अहमद ने स्वच्छता अभियान के अंतर्गत होने वाली विभिन्न गतिविधियों के बारे में जानकारी दी और धन्यवाद भी ज्ञापित किया। आनलाइन कार्यक्रम के उपरान्त प्रोफेसर नसरीन ने विभाग के शिक्षकों, छात्रों और अन्य कर्मचारियों के साथ विभाग परिसर में फूलों की झाड़ियों और फल देने वाले पेड़ों के पौधे लगाए। बड़े पैमाने पर सफाई अभियान भी चलाया गया तथा लीक हुए पानी के नलों को ठीक किया गया और पुरानी फाइलों का निस्तारण किया। भाषाविज्ञान विभाग में, शिक्षकों और गैर-शिक्षण कर्मचारियों ने गांधी जयंती समारोह के तहत ‘स्वच्छता अभियान‘ में उत्साह के साथ भाग लिया।

कार्यक्रम संयोजक डॉ. सबाहुद्दीन अहमद ने कहा कि परिसर में कोविड और अन्य संचारी रोगों के प्रसार को रोकने और एक अस्वच्छ वातावरण में रहने के नुकसान के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए सरकार के दिशानिर्देशों पर यह अभियान चलाया गया था। इसी प्रकार जूलोजी विभाग में अध्यक्ष प्रोफेसर मोहम्मद अफज़ाल के नेतृत्व में स्वच्छता अभियान चलाया गया। प्रोफेसर अफज़ाल के साथ इस अभियान में डॉ. सल्तनत परवीन, डॉ. एम.डी अरशद, डॉ. हिफ्जुर रहमान सिद्दीकी, डॉ. हुमा वसीम और डॉ. सना एवं अन्य संकाय सदस्य भी शामिल हुए।

संबंधित खबरें