AMU resident doctors strike ends treatment will be given to every patient from today - एएमयू: रेजीडेंट डॉक्टर्स की हड़ताल खत्म, आज से मिलेगा हर रोगी को इलाज DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एएमयू: रेजीडेंट डॉक्टर्स की हड़ताल खत्म, आज से मिलेगा हर रोगी को इलाज

एएमयू के जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज में डॉक्टरों की हड़ताल खत्म हो गई है। आज सुबह से मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल पहुंचने वाले हर रोगी को इलाज मिलेगा। रेजीडेंट डॉक्टर्स की हड़ताल के चलते मरीजों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा था।एएमयू के जेएनएमसी में पिछले छह दिनों से डॉक्टरों की हड़ताल चल रही थी। चिकित्सक सातवां वेतनमान लागू करने की मांग कर रहे थे। चिकित्सकों की लम्बे समय से की जा रही इस मांग को लेकर विश्वविद्यालय प्रशासन भी प्रयासरत था। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग और मानव संसाधन विकास मंत्रालय के अधिकारियों से कई बार वार्ता की गई। जिसका नतीजा रहा कि प्रक्रिया को तेज कर दिया गया है। लेकिन जुलाई माह से पहले इस वेतनमान का लाभ मिलना असंभव बताया जा रहा है। इसकी वजह यह है कि प्रक्रिया में समय लग रहा है। हड़ताली डॉक्टरों ने समस्या को समझा और शनिवार को जनरल बॉडी की मीटिंग बुलायी। इस मीटिंग में हड़ताल को लेकर चर्चा की गई। सर्वसम्मिति से हड़ताल खत्म करने का निर्णय लिया गया। रेजीडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉक्टर अब्दुल्लाह आजमी और उपाध्यक्ष डॉक्टर हमजा मलिक एवं सचिव डॉक्टर सादमा शाहिन ने हड़ताल खत्म करने की घोषणा की। सभी हड़ताली चिकित्सक रविवार सुबह आठ बजे से काम पर लौटेंगे।

रजिस्ट्रार और फाइनेंस ऑफिसर के आश्वासन पर माने डॉक्टर

अलीगढ़। एएमयू रजिस्ट्रार अब्दुल हमीद व फाइनेंस ऑफिसर ने हड़ताली चिकित्सकों के साथ बैठक की। जिसमें कहा कि 15 से 20 दिनों तक उनकी मांग पूरी कर दी जाएगी। सोमवार को एमएचआरडी में बैठक भी है। जिसमें रजिस्ट्रार समेत अन्य अधिकारी शामिल होंगे। अधिकारियों के आश्वासन के बाद चिकित्सकों ने हड़ताल खत्म करने का निर्णय लिया।

आरडीए की समस्या का अभी कोई समाधान नहीं किया गया। मेडिकल कॉलेज में होने वाली मौतों का हड़ताली डॉक्टरों से कोई लेना देना नहीं है। -डॉ. अब्दुल्लाह आजमी, अध्यक्ष, आरडीए, एएमयू

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:AMU resident doctors strike ends treatment will be given to every patient from today