DA Image
12 अगस्त, 2020|4:05|IST

अगली स्टोरी

अलीगढ-एटा ने बचाई बाबू जी की प्रतिष्ठा : राजवीर सिंह

अलीगढ-एटा ने बचाई बाबू जी की प्रतिष्ठा : राजवीर सिंह

अलीगढ़-एटा लोकसभा सीट ने बाबूजी की प्रतिष्ठा बचाई है। दोनों सीटों को बाबूजी (पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह) की प्रतिष्ठा से जोड़कर देखा जा रहा था। अतरौली की जनता ने अपना वादा पूरा करते हुए शिक्षा राज्यमंत्री संदीप सिंह से भी ज्यादा वोट सतीश गौतम को दिए। यह बात शुक्रवार को एटा सांसद राजवीर सिंह राजू ने हिन्दुस्तान से बात करते हुए कही।

एटा से भाजपा प्रत्याशी राजवीर सिंह राजू ने एक लाख 27 हजार से अधिक वोटों से जीत दर्ज कराई है। शुक्रवार को मैरिस रोड स्थित राजपैलेस पर पहुंचने पर समर्थकों ने फूल-मालाएं पहनाकर उनका स्वागत किया। एटा सांसद ने कहा कि पूरे देश में इतना बड़ा जनादेश पीएम मोदी के कुशल नेतृत्व और नीति-रीति का नतीजा है। जनता का जात-पात से उठकर काम हुआ है। सबका साथ-सबका विकास की नीति से ही प्रचंड बहुमत हासिल हुआ है।

उन्होंने कहा कि अतरौली में सीएम योगी की जनसभा के दौरान एटा सांसद ने जनता से संवाद करते हुए बेटे संदीप सिंह से भी ज्यादा वोट भाजपा प्रत्याशी को देने को कहा था। ऐसा हुआ भी। अतरौली से भाजपा प्रत्याशी सतीश गौतम को सवा लाख से अधिक वोट मिले हैं। कहा कि क्षेत्र का विकास ही उनकी प्राथमिकता है।

0-पीएम मोदी और पिता दिलेर की वजह से मिली जीत : राजवीर

कार्यालय संवाददाता। अलीगढ़।

हाथरस लोकसभा सीट पर ढाई लाख से भी अधिक वोटों से जीत दर्ज कराने के बाद सांसद राजवीर दिलेर शुक्रवार को राजपैलेस पहुंचे। जहां उन्होंने एटा सांसद राजवीर सिंह राजू का आशीर्वाद लिया।

पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि पीएम मोदी व पिता किशनलाल दिलेर की वजह से ही उनको प्रचंड जीत हासिल हुई है। इसके अलावा पूरा श्रेय जनता को जाता है। सांसद राजवीर दिलेर ने कहा कि हाथरस की जनता ने जो प्यार पिता को दिया। आज उसी जनता से आशीर्वाद के रूप में हाथरस से जीत दिलाई है। अब हर क्षेत्र का विकास कराना ही प्राथमिकता है। सरकार की योजनाओं का लाभ अंतिम व्यक्ति तक पहुंचे इसका ध्यान रखा जाएगा।

राजपैलेस पर दोनों राजवीरों का हुआ स्वागत

मैरिस रोड स्थित राजपैलेस पर शुक्रवार को एक नहीं बल्कि दो राजवीर मौजूद थे। हाथरस से वीर होने वाले राजवीर दिलेर और एटा से राजवीर सिंह का समर्थकों ने स्वागत किया। इस दौरान जिलाध्यक्ष गोपाल सिंह, महागनर अध्यक्ष विवेक सारस्वत, शहर विधायक संजीव राजा, कोल विधायक अनिल पाराशर, छर्रा विधायक रविन्द्र पाल सिंह, पूर्व जिलाध्यक्ष देवराज सिंह, एटा प्रभारी पूनम बजाज, पूर्व जिपं सदस्य नरेन्द्र पचौरी, अन्नू आजाद आदि मैाजूद थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Aligarh-Etah saved Babu s reputation Rajveer Singh