DA Image
29 जनवरी, 2020|3:05|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सपा नेत्री से बच्चों की नौकरी के नाम पर 49 लाख रुपये ठगे

default image

सपा की पूर्व जिलाध्यक्ष नौरीन खान से बेटों और बहुओं की नौकरी लगवाने के नाम पर शातिरों ने 49 लाख रुपये ठग लिए। नौकरी नहीं लगी तो रुपये वापस मांगने पर धमकी दी जाने लगी। ठगी करने वाले कोई और नहीं बल्कि सपा के दो पूर्व पर्यवेक्षक हैं। इनमें एक महिला भी शामिल है। सपा नेत्री ने दोनों के खिलाफ थाना बन्नादेवी में धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कराया है। ईशापुर कॉलोनी निवासी नौरीन खान पत्नी स्व. जरीन खान ने तहरीर में कहा कि वह सपा की पूर्व जिलाध्यक्ष हैं। सपा की पूर्व पर्यवेक्षक रहीं उमा सिंह यादव निवासी रामेश्वर-रामकृष्ण मार्ग फैजाबाद रोड आईटी कॉलेज के पास थाना महानगर लखनऊ व उनके साथी विमल यादव निवासी मंती नगला फर्रुखाबाद पर्यवेक्षक बनाकर अलीगढ़ आए। सपा नेत्री के नाते उनकी दोनों से मुलाकात हुई। आरोप है कि उमा सिंह ने उन्हें बताया कि उनके बड़े-बड़े राजनीतिक लोगों से संबंध हैं। अगर आपको अपने व रिश्तेदारों व अन्य लोगों को सरकारी नौकरी चाहिए तो वाजिब रुपये लेकर नौकरी लगवा देंगी। इस पर उन्होंने उन पर भरोसा कर लिया। अपने बेटों व बहुओं के भविष्य को देखते हुए बायोडाटा इन लोगों को भेज दिए। इसके बाद उनकी तरफ से 50 लाख रुपये की मांग की गई। इस पर उन्होंने दिसंबर 2018 और जनवरी 2019 में दो बार में 49 लाख रुपये दे दिए। इसके बाद दोनों ने उन्हें लखनऊ बुलाकर चारों बेटे-बहुओं के नियुक्ति पत्र दिखाए और कहा कि हम इनको विभागों द्वारा नियमानुसार जारी करा देंगे। मगर आज तक उनके बच्चों की नियुक्ति नहीं हुई। पुलिस ने तहरीर के आधार पर उमा सिंह यादव व विमल यादव के खिलाफ धोखाधड़ी व धमकी देने का मुकदमा दर्ज कर लिया है।

सपा नेत्री से बच्चों की नौकरी लगवाने के नाम पर ठगी का मामला सामने आया है। तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। फिलहाल मामले की जांच कराई जा रही है। जांच में दोषी पाए जाने पर आरोपियों की गिरफ्तारी की जाएगी।-प्रशांत सिंह, सीओ द्वितीय।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:49 lakh rupees in the name of children s job from SP Netri