DA Image
29 जनवरी, 2020|1:12|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीएमओ को गैरहाजिर मिले कर्मचारी

default image

मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने फतेहाबाद सामुदायिक केंद्र का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान 11 कर्मचारी अनुपस्थित मिलें। मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने सभी अनुपस्थित कर्मचारियों से स्पष्टीकरण मांगा है। स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार के निर्देश दिए हैं।

फतेहाबाद सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा.मुकेश वत्स ने निरीक्षण किया। केंद्र पर गंदगी पाए जाने पर उन्होंने नाराजगी व्यक्त की। हाजिरी रजिस्टर चेक किया तो 11 कर्मचारी बिना किसी सूचना के अनुपस्थित पाए गये। उन सभी से स्पष्टीकरण मांगा है। इसके साथ ही 48 घंटों में 12 प्रसव हुए हैं। जिनमें से सिर्फ 2 प्रसूताओं का पंजीकरण हैं। इस संदर्भ में स्टाफ नर्स का वेतन रोकने के निर्देश दिए हैं। ग्रामीण प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों को हैल्थ अवेयरनेस केंद्र बनाया जा रहा है। जिसमें एक अधिकारी की ड्यूटी रहेगी। एएनएम भी उस पर नियमित बैठेंगी। सीएमओ ने सामुदायिक केंद्र पर अव्यवस्थाओं को लेकर नाराजगी दिखायी। उन्होंने कहा कि यदि प्रसूताओं या अन्य किसी मरीज के साथ किसी भी प्रकार की लापरवाही और अभद्रता की तो संबंधित के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी। निरीक्षण के दौरान डा.अनुज गांधी, डा.प्रमोद कुशवाह उपस्थित रहे। गौरतलब है कि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर चिकित्सकों और स्वास्थ्य कर्मचारियों के गैरहाजिर मिलने के मामले लगातार सामने आ रहे हैं।