DA Image
3 अगस्त, 2020|10:40|IST

अगली स्टोरी

एटा में संक्रमण बढ़ने से कासगंज बार्डर पर सख्ती

default image

पड़ोसी जिलों में कोरोना वायरस के संक्रमण के बढ़ने से जिला प्रशासन के लिए कासगंज जनपद को संक्रमण मुक्त रखने की चुनौती खड़ी हो गयी है। एटा, अलीगढ़ और बदायूं में कोरोना के बढ़ते मरीजों को देखते हुए प्रशासन ने जनपदीय सीमा पर कड़ाई कर दी है। पुलिस ने बैरियर लगा कर सीमाएं सील कर दी हैं। प्रशासन ने जनपदीय सीमाओं से सटे ग्रामीणों को सतर्क करते कहा है कि कोई भी बाहरी व्यक्ति आए तो फौरन सूचना दें। किसी के भी प्रवेश पर जांच पड़ताल के साथ ही तत्काल क्वारंटाइन किये जाने की व्यवस्था की गई है।

डीएम चन्द्रप्रकाश सिंह एवं एसपी सुशील घुले का पूरा ध्यान पड़ोसी जिलों की सीमाओं पर आने जाने वालों पर टिका है। शहर कोतवाली, ढोलना थाना और सोरों कोतवाली को सबसे ज्यादा अलर्ट पर रखा गया है। एसपी ने चौकियों के प्रभारियों को भी निगरानी में चौकन्ना रहने के निर्देश दिये हैं। साफ कहा गया है कि, एटा, अलीगढ़, बदायूं की ओर से आने वालों की तत्काल जांच कराएं। क्वारंटाइन स्थलों पर भेजे हैं। दोनों अधिकारियों ने शुक्रवार को भी बार्डरों पर तैनात पुलिस और स्वास्थ्य टीमों से मिलकर उन्हें सतर्क किया।

बाहर फंसे लोगों को लाने से पहले क्वारंटान का इंतजाम :कासगंज। शासन के निर्देश पर बाहर फंसे लोगों को अपने जनपद में लाने से पहले प्रशासन ने क्वारंटाइन करने के मजबूत इंतजाम करने शुरू कर दिये हैं। शुक्रवार को डीएम और एसपी ने शहर और कस्बों में क्वारंटाइन स्थलों के लिए भवनों का निरीक्षण किया। व्यवस्थाएं करने के लिए सभी अधिशाषी अधिकारियों को दिशा निर्देश दिये। ग्राम पंचायतों से भी पूर्व की तरह मदद के लिए तैयार रहने को कहा गया है। पंचायतों ने भी अपने भवनों पर फिर से व्यवस्थाएं ठीक ठाक करने के लिए तैयारी शुरू कर दी हैं।

डीएम और एसपी ने शहर के शारदा जौहरी कालेज के सभागार का जायजा लिया। इसके अलावा नगर पालिका के ईओ लवकुश गुप्ता को दिशा निर्देश दिये हैं। जिनमें क्वारंटाइन के दौरान लोगों के रहने सहने की व्यवस्था करने के लिए निर्देश दिये। इसके अलावा डीएम और एसपी ने भरगैन कस्बे में भी लॉकडाउन की स्थिति देखी और क्वारंटाइन स्थलों के बारे में जानकारी ली। ईओ कुलकमल सिंह क्वारंटाइन स्थल की व्यवस्था करने में जुटे हैं।

वर्जन -जनपद के सीमावर्ती स्थलों पर टीमें गठित हैं। निगरानी रख रही हैं। पड़ोसी जिले से सटे गांव के लोग भी सतर्कता बरतें, बाहर से आए लोगों की तत्काल सूचना दें, जिससे संक्रमण का खतरा नहीं रहे। खासकर एटा,अलीगढ़, बदायूं सीमावर्ती क्षेत्र से आने वालों लोगों पर निगरानी रखी जा रही है।

चन्द्रप्रकाश सिंह, डीएम

वर्जन -पुलिस कर्मियों को अपने अपने क्षेत्र में बाहर से आए लोगों के बारे में सूचनाएं लेते रहने के लिए निर्देश दिये गये हैं। सभी को सतर्कता बरतने के साथ-साथ खुद का बचाव भी करते रहने को कहा गया है।

सुशील घुले, एसपी

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Tightening of Kasganj border due to increasing infection in Etah