DA Image
Thursday, December 2, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश आगराशहर को और मिलेंगे पानी और सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट

शहर को और मिलेंगे पानी और सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट

हिन्दुस्तान टीम,आगराNewswrap
Thu, 28 Oct 2021 07:10 PM
शहर को और मिलेंगे पानी और सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट

आगरा। शहर में पानी की समस्या के समाधान के लिए जल निगम ने यमुनापार में 100 एमएलडी का वाटर वर्क्स बनाने का प्रस्ताव किया है। इसके साथ धांधूपुरा में 76 एमएलडी के सीवेज प्लांट पर भी काम चल रहा है। इसके साथ ही अब शहर में एसटीपी, वाटर ट्रीटमेंट प्लांट और विद्युत सब स्टेशनों के निर्माण की योजना पर काम चल रहा है। ये नए प्लांट ग्रेटर आगरा स्कीम के लिए प्रस्तावित हैं।

दरअसल आगरा विकास प्राधिकरण इनर रिंग रोड के आसपास करीब 612 हैक्टेयर में ग्रेटर आगरा बसाने जा रहा है। इसके साथ ही मेडिसिटी योजना पर भी काम चल रहा है। जब ये योजनाएं परवान चढ़ेंगी तो विकास की रफ्तार को और अधिक गति देंगी। इसी को ध्यान में रखते हुए यमुनापार में 100 एमएलडी के वाटर वर्क्स की योजना पर जल निगम ने पहले ही काम शुरू कर दिया है। करीब 600 करोड़ की डीपीआर शासन को भेजी गई है। ग्रेटर आगरा योजना के लिए पेयजल और निर्माण कार्य के लिए पानी की जरूरत को लेकर मंथन चल रहा है। पिछले दिनों एडीए कार्यालय में हुई बैठक में यह मुद्दा उठा था। अधिकारियों का कहना था कि क्षेत्र में भूजल स्रोतों की स्थिति खराब हो चुकी है। भूजल का दोहन नहीं किया जा सकता है। ऐसे वहां तक गंगाजल की लाइन की जरूरत होगी। यमुनापार में वाटर वर्क्स बनता तो है ठीक नहीं अन्यथा एडीए को वाटर वर्क्स के लिए भी योजना में प्रावधान करना होगा। इसके साथ ही वहां सीवर ट्रीटमेंट प्लांट भी बनाया जाएगा। फिलहाल यमुना में जा रहे करीब 60 नालों को टेप करने के लिए जल निगम धांधूपुरा में 76 एमएलडी का ट्रीटमेंट प्लांट बना रहा है तो वहीं कुछ प्लांटों को उच्चीकृत किया जा रहा है। ग्रेटर आगरा के लिए अलग से सीवर ट्रीटमेंट प्लांट बनाया जाएगा। विद्युत फीडर के लिए जमीन का प्रावधान किया जाएगा। एडीए के उपाध्यक्ष डा. राजेंद्र पैंसिया के मुताबिक स्कूल ऑफ प्लानिंग एंड आर्किटेक्चर योजना का डिजायन तैयार कर रही है। डिजायन फाइनल होने के बाद यह तय हो जाएगा कि कहां और कितनी क्षमता के प्लांट बनाने होंगे।

इनर रिंग रोड के आसपास के दौड़ रहा विकास का पहिया

इनर रिंग रोड की ओर विकास का पहिया चलने लगा है। पहले यहां थीम पार्क की योजना थी लेकिन यह धराशाई हो गई थी। अब आगरा विकास प्राधिकरण ने ग्रेटर आगरा, मेडिसिटी और लैंड पूलिंग लाकर क्षेत्र को फिर से हाट केक बना दिया है। यमुना एक्सप्रेस वे, आगरा लखनऊ एक्सप्रेस वे और इनर रिंग रोड की वजह से बेहतर कनेक्टिविटी हो गई है, इससे क्षेत्र में विकास की संभावनाएं बढ़ रही हैं। इन हालात में पानी, सीवर, बिजली, सड़क आदि बुनियादी सुविधाओं पर काम होगा।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें