ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश आगरापथराई आंखों को उम्मीद के सहारे लाड़लों का इंतजार

पथराई आंखों को उम्मीद के सहारे लाड़लों का इंतजार

किसी के लाड़ले को अचानक गायब हुए दो साल हो गई तो किसी बेटी को लापता हुए तीन साल। कोई खेलते समय तो कोई घर के बाहर से गायब हो...

पथराई आंखों को उम्मीद के सहारे लाड़लों का इंतजार
हिन्दुस्तान टीम,आगराFri, 24 May 2024 09:25 PM
ऐप पर पढ़ें

किसी के लाड़ले को अचानक गायब हुए दो साल हो गई तो किसी बेटी को लापता हुए तीन साल। कोई खेलते समय तो कोई घर के बाहर से गायब हो गया। अपने कलेजे के टुकड़े की तलाश में माता पिता पुलिस पर पहुंचे तो पुलिस ने तलाश में खूब हाथ-पैर मारे, लेकिन बच्चों का पता नहीं चल सका।

बच्चों के आने के इंतजार में घर वालों की आंखें पथरा गईं, लेकिन उम्मीद के सहारे सब्र कर किये हुए हैं कि उनका बच्चा लौट आए। जनपद में ऐसे सात बच्चे हैं लापता हैं, जिनकी तलाश के प्रयास से पुलिस के रिकार्ड भरे हुए हैं। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि, पुलिस ने अभी प्रयास नहीं छोड़े हैं, कई माध्यमों से बच्चों की तलाश जारी है।

जनपद से लापता बच्चों की तलाश को लेकर थानों की पुलिस ने काफी प्रयास किये हैं और अभी भी जारी हैं, तलाश के कई माध्यम जिनमें प्रचार प्रसार, पोर्टलों एवं सोशल नेटवर्किंग के माध्यम से भी लापता बच्चों की तलाश की जा रही है, अब तक आठ बच्चों को तलाशा भी जा चुका है, अभी सात बच्चों की तलाश के लिए कार्य जारी है।

- राजेश भारती, एएसपी कासगंज

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।