DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एसटीएफ ने पोइया घाट पर घेरा इनामी, मुठभेड़

एसटीएफ आगरा यूनिट ने शुक्रवार की शाम पोइया घाट के पास कासगंज के दो बदमाशों को घेर लिया। दोनों तरफ से एक-एक गोली चली। एक बदमाश जख्मी हो गया। दूसरा भाग निकला। पकड़ा गया बदमाश बीस हजार का इनामी नन्ने उर्फ ननिया है। उसने अपने फरार साथी का नाम बुद्धपाल बताया है। देर रात तक एसटीएफ उसकी तलाश में जुटी रही।

एसटीएफ आगरा यूनिट को एसएसपी एसटीएफ अभिषेक सिंह ने गांव इंद्राजसनपुर (थाना सिकंदरपुर वेस्ट कासगंज) का टॉस्क दिया था। उस पर बीस हजार रुपये का इनाम था। वर्ष 2016 में गांव की रंजिश में उसने दो लोगों की हत्या की थी। गांव में उसकी मुन्ना पंडित से रंजिश चल रही थी। पूर्व में वह कई बार जेल गया था। उस पर 17 मुकदमे दर्ज थे। सीओ एसटीएफ श्यामकांत, इंस्पेक्टर हरीश वर्धन सिंह, एसआई मुनेश बाबू को उसके मूवमेंट की सूचना मिली। एसटीएफ की टीम ने पोइया घाट की तरफ दौड़ लगा दी। वहां मुठभेड़ हुई। बदमाशों की तरफ से एक गोली चली। एक गोली एसटीएफ ने चलाई। पैर में गोली लगने पर एक बदमाश गिर पड़ा। दूसरा भाग गया।

मुठभेड़ की सूचना पर न्यू आगरा का फोर्स भी पहुंच गया। एसटीएफ अधिकारियों ने बताया कि आरोपित के पास से एक तमंचा, एक जिंदा कारतूस और मौके से एक खाली खोखा मिला है। आरोपित जिस मोबाइल का प्रयोग कर रहा था उसमें चार सिमकार्ड थे। वह एक नंबर एक बार फोन करने के लिए प्रयोग करता था। आगरा में किसी खास मकसद से आया था। जख्मी बदमाश को इमरजेंसी में भर्ती कराया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:stf