DA Image
24 नवंबर, 2020|10:58|IST

अगली स्टोरी

रात्रिकालीन भत्ता शुरू नहीं किया तो अनिश्चितकालीन हड़ताल करेंगे रेलकर्मी

default image

रेलवे द्वारा रात्रिकालीन भत्ता बंद करने के विरोध में सिग्नल एंड टेलीकम्युनिकेशन विभाग (एसएंडटी) के कर्मियों ने काला दिवस मनाया। रेलकर्मियों ने उपवास रखकर रेलवे की नीतियों का विरोध किया। आईआरएसटीएमयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बीएल मीणा के नेतृत्व में आगरा मंडल की सभी शाखाओं एवं स्टेशनों पर एसएंडटी कर्मियों ने काला दिवस मनाते हुए कहा कि यदि उनकी मांगें नहीं मानी गईं तो वह अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल करेंगे।

बीएल मीणा ने कहा कि नाइट ड्यूटी अलाउंस की सीलिंग सीमा खत्म किए जाने तक आंदोलन जारी रहेगा। आईआरएसटीएमयू की आगरा मंडल की मथुरा, कोसीकलां, अझई, वृंदावन, खेड़ली, मंडावर, धौलपुर, अलवर, फतेहपुर सीकरी, आगरा फोर्ट शाखाओं ने भी काला दिवस मनाया।

नॉर्थ सेंट्रल रेलवे वर्कर्स यूनियन ने एनपीएस, निजीकरण, महंगाई भत्ता कटौती, रात्रि भत्ता कटौती के खिलाफ लोको पायलट/ गार्ड लॉबी पर जागरूकता अभियान चलाया। मंडल मंत्री राहुल चौरसिया ने कहा कि सरकार लगातार कर्मचारी विरोधी नीतियां जारी कर रही है। अध्यक्ष एसएस मीना ने कहा कि कर्मचारी विरोधी नीतियों को वापस नहीं लिया तो 1974 की हड़ताल को दोहराया जाएगा। जागरूकता अभियान में राधेश्याम पासवान, बीके बाथम, महेंद्र मीना, ध्यान सिंह मीणा, श्याम, सुजीत, संजीव, बसंत आदि शामिल रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Rail workers will go on indefinite strike if they do not start the night allowance