DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खुले स्टेशन हैं अवैध वेंडिंग का कारण

ताजनगरी के स्टेशन आखिर सुरक्षित कैसे रहें। शहर का एक भी स्टेशन बाउंड्री वाल से कवर नहीं है। ट्रेन और यात्रियों पर खतरा मंडरा ही रहा है। अवैध वेंडिंग को भी बढ़ावा मिल रहा है। हैरत है कि बड़े स्टेशन भी इस लिहाज से सुरक्षित नहीं हैं।

बीते दिनों आगरा फोर्ट रेलवे स्टेशन पर एक ट्रक अवैध पानी की बोतलें पकड़ी गई थीं। जाहिर है कि इसमें रेलवे, आरपीएफ, जीआरपी की मिलीभगत रही होगी। अन्यथा इतनी बड़ी संख्या में पानी के कार्टन स्टेशन तक नहीं पहुंच पाते। इनकी बिक्री भी गाड़ियों के अंदर हो रही होगी। यानि स्टेशन तक बोतलों के ट्रकों का आना, प्लेटफार्म तक अवैध माल का पहुंचना और गाड़ियों के अंदर तक पहुंचाने के खेल में रेलवे के कई विभागों की शह रही होगी। प्लेटफार्मों तक अवैध माल पहुंचाने के तमाम रास्ते हैं। अमूमन प्लेटफार्म के दोनों छोर स्टेशनों के बाहर रहते हैं। यहीं से अवैध वेंडर खेल को अंजाम देते हैं। गाड़ियों का एक हिस्सा प्लेटफार्म से बाहर ही रहता है। यहां से वेंडर आसानी से गाड़ियों में चढ़ने में कामयाब हो जाते हैं। आगरा कैंट, फोर्ट, राजामंडी जैसे स्टेशनों का यही हाल है। हालांकि स्टेशनों को बाउंड्री वाल से कवर करने के लिए 2006 में इंटीग्रेटेड सिस्टम तैयार किया गया था। इसके तहत स्टेशनों को बाउंड्री से कवर किया जाना था। सुरक्षा के दूसरे इंतजाम भी विकसित किए जाने थे। पूरे 10 साल गुजर जाने के बाद भी इस पर अमल नहीं हो पाया है। डीसीएम डा. संचित त्यागी के मुताबिक रेलवे की इस योजना पर अमल होने जा रहा है। जल्द ही स्टेशनों को बाउंड्री से कवर किया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Open station is the cause of illegal vending