DA Image
24 सितम्बर, 2020|5:24|IST

अगली स्टोरी

अब दो विषय के दो पेपर में री-एग्जाम को मिलेगा मौका

default image

डॉ. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय ने परीक्षा में बड़ा बदलाव कर दिया है। विवि के इस बदलाव के बाद छात्रों को उत्तीर्ण होने के अधिक मौके मिलेंगे। विवि ने री-एग्जाम में पेपर की संख्या को बढ़ा दिया है। अब छात्र दो विषयों के दो पेपर में री-एग्जाम दे सकेंगे। मंगलवार को हुई विवि की परीक्षा समिति की बैठक ने इस बड़े बदलाव पर मुहर लगा दी।

परीक्षा समिति में औटा महामंत्री डॉ. निशांत चौहान ने री-एग्जाम के मामले को उठाया। उन्होंने कहा कि इस समय विश्वविद्यालय में एक विषय के एक प्रश्न पत्र में ही पुनः परीक्षा देने की अनुमति है। जबकि तीन साल पहले यह व्यवस्था थी कि एक विद्यार्थी दो विषयों के तीन प्रश्न पत्रों में पुनः परीक्षा दे सकता था। विवि की ओर से किए गए बदलाव के बाद छात्र संख्या में भारी गिरावट हुई है।

उन्होंने कुलपति प्रो. अशोक कुमार मित्तल से कहा कि पूर्व की भांति दो विषयों के तीन प्रश्न पत्रों में परीक्षा देने की अनुमति प्रदान कर दी जाए। औटा महामंत्री डॉ. निशांत चौहान ने बताया कि परीक्षा समिति ने इसी सत्र से विद्यार्थी के दो विषयों में एक-एक प्रश्न पत्र की पुनः परीक्षा देने का फैसला लिया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Now two papers of two subjects will get a chance to re-exam