DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › आगरा › शमसाबाद में घर के बाहर सो रहे किसान की हत्या
आगरा

शमसाबाद में घर के बाहर सो रहे किसान की हत्या

हिन्दुस्तान टीम,आगराPublished By: Newswrap
Mon, 11 Oct 2021 06:25 PM
शमसाबाद में घर के बाहर सो रहे किसान की हत्या

आगरा। गांव नगला जामुनीभान में रविवार की रात घर के बाहर सो रहे किसान लाखन सिंह की हत्या कर दी गई। घर में सो रहे परिजनों को इसकी भनक तक नहीं लगी। किसी को उनकी चीख तक नहीं सुनाई पड़ी। वारदात की जानकारी सुबह के समय हुई। उनका शव चारपाई पर पड़ा मिला। सिर पर धारदार भारी वस्तु से प्रहार किया गया था। गला घोंटने का प्रयास किया गया था।

घटना की जानकारी सुबह करीब छह बजे हुई। एसपी देहात पूर्वी के अशोक वैंकट ने बताया कि 60 वर्षीय लाखन सिंह किसान थे। उनके दो बेटे और एक बेटी हैं। बेटे सुल्तान और सुशील हैं। सुल्तान विवाहित है। एक छोटा बच्चा है। बेटी की भी शादी हो चुकी है। बराबर में ही लाखन सिंह के भाई विजयपाल सिंह का घर है। सुबह भतीजे भानुप्रताप सिंह ने देखा कि वह चारपाई पर सो रहे हैं। ऊपर से चादर ओढ़ रखी है। वैसे वह सुबह चार बजे खेत पर चले जाते थे। उसे लगा कि ताऊ की तबियत खराब है। वह उन्हें उठाने आया। आवाज लगाई। जब उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया तो भतीजे ने चादर हटाई तो उसकी चीख निकल पड़ी। नीचे खून से लथपथ शव था। उसने शोर मचाया। परिजन बाहर आए। कोहराम मच गया। सूचना पर पुलिस पहुंची। पुलिस ने छानबीन के लिए फोरेंसिक टीम और डॉग स्क्वायड को बुलाया।

एसपी देहात पूर्वी ने बताया कि लाखन सिंह और उनके भाई विजयपाल सिंह के पास 70 बीघा जमीन है। 35 बीघा जमीन लाखन सिंह की है। परिजनों का कहना है कि उनकी किसी से कोई रंजिश नहीं है। घटना स्थल के निरीक्षण के बाद ऐसा नहीं लगा कि रात को बदमाश लूटपाट करने आए हों। जो भी आया था उसने सिर्फ किसान की हत्या की और भाग गया। किसान की हत्या से किसे क्या फायदा हो सकता है। यह देखा जा रहा है। प्रारंभिक छानबीन के बाद ऐसा लग रहा है कि यह मामला सिर्फ हत्या का है। किसी करीबी का इसमें हाथ है।

सिर की चोट से हुई मौत

एसपी देहात ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार हत्या रात 12 बजे के आस-पास हुई। लाखन सिंह रात 11 बजे सोए थे। मौत सिर की चोट के कारण हुई। गले में अंगोछा बंधा मिला था मगर मौत की वजह गला घोंटना नहीं आई। हो सकता है कि सिर पर प्रहार के बाद गला दबाया गया हो ताकि वह बच नहीं जाएं।

संबंधित खबरें