Land forgery caught in Kasganj - सोरों के गांव गंगागढ़ की डेढ़ सौ बीघा जमीन सरकार में निहित DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सोरों के गांव गंगागढ़ की डेढ़ सौ बीघा जमीन सरकार में निहित

जनपद में जमीन के मामले में एक बड़ी कार्रवाई सामने आयी है। कार्रवाई की प्रक्रिया को लेकर दिनभर तहसील प्रशासन कागजों को खंगालता रहा। देर रात तक सरकारी कार्रवाई चली। मामला सोरों के गांव गंगागढ़ की 150 बीघा जमीन का है। दलितों की जमीन को पहले लोगों ने दलित बनकर खरीद और बाद में सामान्य जाति का बनकर बेच दिया। एसडीएम कोर्ट ने इस मामले को सुना और डेढ़ सौ बीघा जमीन को राज्य सरकार में निहित करने का आदेश दिया है।

कासगंज के ही रहने वाले नन्नू सिंह वर्मा ने एसडीएम कोर्ट में वाद दायर किया था कि गांव गंगागढ़ में दलितों की जमीन की खरीद फरोख्त जाति छिपाकर की गयी है। एसडीएम ललित कुमार ने इस मामले को सुना और उनकी शिकायत को सही पाते हुये डेढ़ सौ बीघा जमीन राज्य सरकार में निहित कर दी है। एसडीएम ललित कुमार ने जानकारी दी कि गंगागढ़ के निवासी रामपाल, सरमन सिंह, रामफूल, रामौतार, रामदंत, रामप्रकाश, रामदयाल व वेदारी दलित जाति के व्यक्तियों को सराकर ने जमीनों के पट्टे किये थे। इन दलितों की जमीन को बलवंत सिंह, दर्शन सिंह, अमर सिंह, त्रिलोचन, संतोष सिंह व वेयंत सिंह ने दलित बनकर बैनामा करा लिया। उसके बाद सामान्य जाति का बनकर जमीन का बैनामा राकेश कुमार सक्सेना के नाम कर दिया। इस मामले की शिकायत नन्नू सिंह वर्मा द्वारा की गयी और बाद में एसडीएम कोर्ट में मामला दायर किया गया।

सोरों के गांव गंगागढ़ में दलितों की जमीन की खरीद बिना सक्षम अधिकारी की अनुमति की गयी। दलितों की जमीन को जाति छिपाकर खरीदा और बाद में सामान्य जाति का बनकर राकेश कुमार सक्सेना नाम के व्यक्ति को बेची गई। एसडीएम कोर्ट में मामला दायर किया था। जिसके बाद जमीन राज्य सरकार में निहित हो गयी है।

-नन्नू सिंह वर्मा, शिकायतकर्ता

सोरों के गंगागढ़ गांव में जाति छिपाकर दलितों की जमीन खरीदी गयी। उसके बाद सामान्य जाति का बनकर उस जमीन का बैनामा किया गया। इस मामले में नन्हू सिंह ने मामला एसडीएम कोर्ट में दायर किया था। कोर्ट ने पाया कि दलितों की जमीन को खरीदने से पहले सक्षम अधिकारियों से अनुमति नहीं ली गयी। गंगागढ़ गांव की करीब डेढ़ सौ बीघा जमीन को राज्य सरकार में निहित करने के आदेश दिये गये हैं।

-ललित कुमार, एसडीएम, कासगंज

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Land forgery caught in Kasganj